हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:
झारखण्ड संयुक्त असैनिक सेवा मुख्य प्रतियोगिता परीक्षा 2016 -परीक्षाफलछत्तीसगढ़ पीसीएस प्रश्नपत्र 2019छत्तीसगढ़ पी.सी.एस. (प्रारंभिक) परीक्षा, 2019 (महत्त्वपूर्ण अध्ययन सामग्री).छत्तीसगढ़ पी.सी.एस. प्रारंभिक परीक्षा – 2019 सामान्य अध्ययन – I (मॉडल पेपर )UPPCS मेन्स क्रैश कोर्स.
हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स (Hindi Literature: Pendrive Course)
मध्य प्रदेश पी.सी.एस. (प्रारंभिक) परीक्षा , 2019 (महत्वपूर्ण अध्ययन सामग्री)मध्य प्रदेश पी.सी.एस. परीक्षा मॉडल पेपर.Download : उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (प्रवर) प्रारंभिक परीक्षा 2019 - प्रश्नपत्र & उत्तर कुंजीअब आप हमसे Telegram पर भी जुड़ सकते हैं !यू.पी.पी.सी.एस. परीक्षा 2017 चयनित उम्मीदवार.UPSC CSE 2020 : प्रारंभिक परीक्षा टेस्ट सीरीज़

डेली अपडेट्स

शासन व्यवस्था

भारत ने विश्व बैंक के साथ 21.7 मिलियन डॉलर के ऋण समझौते पर किये हस्ताक्षर

  • 30 May 2018
  • 4 min read

चर्चा में क्यों?

राजस्‍थान परियोजना में सार्वजनिक वित्तीय प्रबंधन की मज़बूती के लिये विश्‍व बैंक से 21.7 मिलियन अमेरीकी डॉलर के ऋण समझौते पर नई दिल्‍ली में भारत सरकार और विश्‍व बैंक द्वारा हस्‍ताक्षर किये गए।

मुख्य बिंदु

  • यह परियोजना 31 मिलियन अमेरीकी डॉलर की है, जिसमें से 21.7 मिलियन अमेरिकी डॉलर विश्‍व बैंक से और शेष राशि राज्य बजट से ली जाएगी।
  • इस परियोजना की अवधि 5 साल है।

उद्देश्य

  • परियोजना का उद्देश्य राजस्थान में राजस्व प्रशासन में बेहतर बजट निष्पादन, बढ़ी जवाबदेही और अधिक दक्षता में योगदान करना है।
  • परियोजना में अन्‍य कार्यों के अलावा सार्वजनिक वित्तीय प्रबंधन ढाँचे को सुदृढ़ बनाना, व्यय एवं राजस्व प्रणाली को सुदृढ़ करना और परियोजना प्रबंधन तथा क्षमता निर्माण शामिल हैं।

पृष्ठभूमि

  • वर्ष 1944 में अमेरिका के ब्रेटन वुड्स शहर में विश्व के नेताओं द्वारा विश्व बैंक और अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष की स्थापना की गई। शुरुआत में इन दोनों संस्थाओं को ब्रेटन वुड्स संस्था के नाम से जाना गया।
  • इन दोनों संस्थाओं की स्थापना द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद अंतर्राष्ट्रीय अर्थव्यवस्थाओं को दोबारा पटरी पर लाने के उद्देश्य से की गई थी। इन दोनों वित्तीय संस्थाओं की अपनी अलग-अलग भूमिका है।

विश्व बैंक

  • विश्व बैंक संयुक्त राष्ट्र की ऋण प्रदान करने वाली एक विशिष्ट संस्था है, इसका उद्देश्य सदस्य देशों की अर्थव्यवस्थाओं को एक वृहद वैश्विक अर्थव्यवस्था में शामिल करना तथा विकासशील देशों में गरीबी उन्मूलन के प्रयास करना है।
  • यह नीति सुधार कार्यक्रमों एवं संबंधित परियोजनाओं के लिये ऋण प्रदान करता है। विश्व बैंक की सबसे ख़ास बात यह है कि यह केवल विकासशील देशों को ऋण प्रदान करता है।
  • इसका प्रमुख उद्देश्य सदस्य राष्ट्रों को पुनर्निर्माण और विकास के कार्यों में आर्थिक सहायता प्रदान करना है।
  • इसके अंतर्गत विश्व को आर्थिक तरक्की के मार्ग पर लाने, विश्व में गरीबी को कम करने, अंतर्राष्ट्रीय निवेश को बढ़ावा देने जैसे पक्षों पर बल दिया गया है।
  • विश्व बैंक समूह का मुख्यालय
  • वाशिंगटन डी सी (अमेरिका) में अवस्थित है।

विश्व बैंक में शामिल पाँच संस्‍थाएँ

  • अंतर्राष्ट्रीय पुनर्निर्माण और विकास बैंक (International Bank for Reconstruction and Development – IBRD), इसे ही विश्व बैंक कहा जाता है।
  • अंतर्राष्ट्रीय विकास संघ (International Development Association – ADA)
  • अंतर्राष्‍ट्रीय वित्त निगम (International Finance Corporation – IMF)
  • बहुपक्षीय निवेश प्रत्‍याभूति एजेंसी (Multilateral Investment Guarantee Agency – MIGA)
  • निवेश संबंधी विवादों के निपटान का अंतर्राष्‍ट्रीय केंद्र (International Centre for Settlement of Investment Disputes – ICSID)
  • वर्तमान में विश्व बैंक में 180 देश सदस्‍य हैं। विश्‍व बैंक का सदस्‍य बनने के लिये किसी भी देश को पहले अंतर्राष्ट्रीय वित्त निगम का सदस्‍य बनना ज़रूरी होता है।
एसएमएस अलर्ट
 

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

प्रोग्रेस सूची देखने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

आर्टिकल्स को बुकमार्क करने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close