हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

डेली अपडेट्स

विविध

डेटा प्वाइंट: गो रक्षा के नाम पर आतंक

  • 05 Dec 2018
  • 2 min read

संदर्भ


गोरक्षा के नाम पर पिछले कुछ सालों से चल रहा आतंक थमने का नाम नहीं ले रहा है। हाल ही में उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर ज़िले में एक पुलिस अधिकारी तथा एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई। डाटा जर्नलिज़्म की वेबसाइट इंडिया स्पेंड ने 2012 के बाद घटित होने वाली ऐसी 99 घटनाओं तथा 39 हत्याओं को सारणीबद्ध किया है। इंडिया स्पेंड द्वारा हाल ही जारी किये गए आँकड़े काफी चौंकाने वाले हैं।

data point


घटनाओं का विश्लेषण

  • हिंसा के शिकार-

  • इंडिया स्पेंड के डेटाबेस के अनुसार, हिंसा के शिकार लोगों का समुदाय आधारित विश्लेषण इस प्रकार है-

voilence

  • उत्तर भारत में सबसे ज़्यादा हिंसा

  • अब तक गोरक्षा के नाम पर हिंसक घटनाएँ 19 राज्यों में घटित हुई हैं। जिसमें सबसे ज़्यादा घटनाएँ उत्तर प्रदेश में दर्ज़ की गई हैं।

uttar pradesh

  • उत्तर प्रदेश में कुल 16 घटनाएँ हुईं जिनमें 9 लोगों की हत्या दर्ज़ की गई।
  • हरियाणा, राजस्थान और मध्य प्रदेश भी ऐसे राज्य रहे जहाँ हिंसा होती रही।

north india

  • मासिक विश्लेषण

  • 2012 के बाद अप्रैल 2017 में गोरक्षा के नाम पर हिंसक घटनाएँ सबसे ज़्यादा दर्ज़ की गई थीं।
  • हिंसा की घटनाएँ अगस्त 2018 में एक बार फिर घटित होनी शुरू हो गईं।

spikes

  • पूरे भारत में हिंसक घटनाओं पर एक नज़र

  • पूरे भारत में घटनाओं का विस्तार इस प्रकार रहा है-
    india

    स्रोत- द हिंदू, इंडिया स्पेंड

एसएमएस अलर्ट
Share Page