Study Material | Mains Test Series
ध्यान दें:

टू द पॉइंट

एथिक्स

मानवीय मूल्य (Human Values)

  • 20 May 2019
  • 3 min read

अवधारणा

  • मूल्य शब्द से तात्पर्य किसी भौतिक वस्तु अथवा मानसिक अवस्था के उस गुण से है, जिसके द्वारा मनुष्य के किसी उद्देश्य अथवा लक्ष्य की पूर्ति होती है।
  • मूल्यों का व्यक्ति के आचरण, व्यक्तित्व तथा कार्यों पर स्पष्ट प्रभाव पड़ता है।

मूल्यों की विशेषताएँ

  • मूल्य के दो पहलू होते हैं। प्रथम विषय-वस्तु और दूसरा तीव्रता।
  • मूल्य कुछ अंश तक आंतरिक भाव होते हैं, जो व्यक्ति के व्यक्तित्त्व में प्रतिबिम्बित होते हैं।
  • क्षेत्र विशेष के संदर्भ में मूल्य के महत्त्व में अंतर पाया जाता है।
  • मूल्य अमूर्त होते हैं।
  • मूल्य सीखे जाते हैं।

मूल्यों के प्रकार

दृष्टिकोण के आधार पर

  • सकारात्मक मूल्य, जैसे- अहिंसा, शांति, धैर्य आदि।
  • नकारात्मक मूल्य, जैसे- हिंसा, अन्याय, कायरता आदि।

उद्देश्य के आधार पर

  • साध्य मूल्य- वे सभी वस्तुएँ या अवस्थाएँ, जो स्वयं में शुभ होती हैं।
  • साधन मूल्य- जो अपने आप में शुभ न होकर किसी अन्य वस्तु के साधन के रूप में शुभ होता है।

विषय क्षेत्र के आधार पर

  • सामाजिक मूल्य, जैसे- अधिकार, कर्त्तव्य, न्याय आदि।
  • मानव मूल्य , जैसे- नैतिक मूल्य, आध्यात्मिक मूल्य आदि।
  • नैतिक मूल्य, जैसे- न्याय, ईमानदारी आदि।
  • आध्यात्मिक मूल्य, जैसेे- शांति, प्रेम, अहिंसा आदि।
  • भौतिक मूल्य, जैसे- भोजन, मकान, वस्त्र आदि।
  • सौंदर्यात्मक मूल्य, प्रकृति, कला एवं मानवीय जीवन के साैंदर्य को कहते हैं।
  • मनोवैज्ञानिक मूल्य, जैसे- प्रेम, दया आदि।

कार्य क्षेत्र के आधार पर

  • राजनीतिक मूल्य, जैसे- ईमानदारी, सेवा भाव आदि।
  • न्यायिक मूल्य , जैसे- सत्यनिष्ठा, निष्पक्षता आदि।
  • व्यावसायिक मूल्य, जैसे- जवाबदेही, ज़िम्मेदारी, सत्यनिष्ठा आदि।

मूल्य एवं अभिवृत्ति में संबंध

समानताएँ

  • दोनों ही सीखे जाते हैं।
  • दोनों ही प्राय: स्थायी होते हैं।
  • दोनों में ही व्यक्ति के व्यवहार को प्रेरित करने की क्षमता होती है।

असमानताएँ

  • अभिवृत्ति प्राय: मूल्यों से ही उत्पन्न होती है।
  • विशिष्ट परिस्थिति में अभिवृत्ति मूल्य को निर्धारित करती है।
  • मूल्य तथा अभिवृत्ति परस्पर संबंधित हैं, इसलिये मूल्यों में परिवर्तन होने से अभिवृत्ति भी स्वत: बदलने लगती है।
  • कभी-कभी मूल्यों द्वारा अभिवृत्ति एवं व्यवहार का संबंध निर्धारित होता है। किसी विशेष मूल्य के कारण व्यक्ति का व्यवहार उसकी अभिवृत्ति से असंगत हो सकता है।
एसएमएस अलर्ट
 

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

प्रोग्रेस सूची देखने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

आर्टिकल्स को बुकमार्क करने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close