Study Material | Prelims Test Series
ध्यान दें:

महत्त्वपूर्ण रिपोर्ट्स की जिस्ट

शासन व्यवस्था

विश्व स्वास्थ्य संगठन की वॉश (WASH) रणनीति

  • 25 Feb 2019
  • 37 min read

परिचय

  • WHO के 13वें ‘जनरल प्रोग्राम ऑफ वर्क’ (General Programme of Work 2019-2023) के अंतर्गत यह बताया गया है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन यानी WHO अपनी बेहतर आपातकालीन तैयारियों और प्रतिक्रिया जैसी बहुपक्षीय कार्रवाइयों के माध्यम से तीन बिलियन लोगों के स्वास्थ्य जिसमें एक बिलियन लोगों को सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज (Universal Health Coverage-UHC) प्रदान करना भी शामिल है, में कैसे योगदान देगा।
  • इन उद्देश्यों के इर्द-गिर्द WHO ने कई प्रभावी संकेतकों से युक्त उच्च स्तरीय ढाँचा विकसित किया है।
  • इनमें से दो संकेतक घरों में सुरक्षित पेयजल, सफाई तथा स्वच्छता तक पहुँच बढ़ाने के लिये संगठन के काम में तेज़ी लाएंगे, तथा UHC से जुड़े अतिरिक्त लक्ष्य स्वास्थ्य देखभाल सुविधाओं (Health Care Facilities-HCF) जल, सफाई एवं स्वच्छता (WAter, Sanitation and Hygiene-WASH) में सुधार से संबंधित हैं।
  • सात अन्य संकेतक, जो मुख्य रूप से आवश्यक स्वास्थ्य सेवाओं, बाल एवं मातृ मृत्यु दर तथा रोगाणुरोधी प्रतिरोध (Anti-Microbial Resistance-AMR) से जुड़े हुए हैं, उनमें जल, स्वच्छता तथा ऊर्जा विशेषकर HCF में सुधार की आवश्यकता होगी।
  • WHO की वॉश (WASH) रणनीति, सदस्य राज्य संकल्प (Member State Resolution) WHA64.4 तथा सतत् विकास और सतत् विकास लक्ष्यों (SDGs) के एजेंडा 2030 के परिपेक्ष्य में विकसित की गई है।
  • WHO की वॉश (WASH) रणनीति जुलाई 2010 में संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा अपनाई गई सुरक्षित पेयजल एवं स्वच्छता आदि मानवाधिकारों की प्रगतिशील प्राप्ति की आवश्यकता पर भी विचार करती है।
  • 2025, वॉश (WASH) रणनीति की अंतिम तिथि, SDGs के अंतिम पाँच साल की अवधि में सुधार हेतु एक उचित प्रबंधनीय समय अवधि के साथ-साथ 2025 में एक नई WHO रणनीति अपनाने का प्रस्ताव भी करती है।

WASH हेतु WHO की परिकल्पना

  • सभी स्तरों पर जल, सफाई एवं स्वच्छता सेवाओं के सुरक्षित प्रबंधन के माध्यम से स्वास्थ्य में सुधार करना।

WHO की वॉश (WASH) रणनीति के सिद्धांत

  • क्षेत्रों में सबसे अधिक सार्वजनिक स्वास्थ्य लाभ के कार्यों को प्राथमिकता देना जहाँ WHO तुलनात्मक रूप से लाभ प्राप्त कर रहा है या कर सकता है।
  • सुरक्षित WASH को बढ़ावा देने तथा WASH में अपनी सार्वजनिक स्वास्थ्य निरीक्षण भूमिका को प्रभावी बनाने के लिये स्वास्थ्य क्षेत्र की क्षमताओं को प्रभावी बनाना, जिसमें प्रभावी प्रकोप प्रतिक्रिया प्रणालियाँ (Effective Outbreak Response Systems) भी शामिल हैं।
  • WASH, स्वास्थ्य, जलवायु परिवर्तन एवं पोषण तथा मानवाधिकार सिद्धांतों से संबंधित लक्ष्यों को SDGs के साथ लेकर चलना।
  • मानदंडों तथा सर्वोत्तम अभ्यास प्रक्रियाओं को विकसित करते समय स्वास्थ्य और व्यावहारिक अनुभवों की एक पूरी श्रृंखला पर WASH के प्रभावों के बारे में जानने के लिये साक्ष्यों के संग्रहण, समीक्षा एवं उपयोग सहित उच्चतम गुणवत्ता वाले विज्ञान का उपयोग करना।
  • राष्ट्रीय WASH मानकों एवं महत्त्वाकांक्षी लेकिन प्राप्त करने योग्य राष्ट्रीय लक्ष्यों को निर्धारित करने के लिये राष्ट्रों का समर्थन करते समय एक प्रासंगिक, वृद्धिशील सुधार संबंधी दृष्टिकोण को बढ़ावा देना
  • मौजूदा क्षेत्रीय नीतिगत ढाँचों का लाभ उठाना जो WASH को बढ़ावा देते हैं तथा राष्ट्रीय लक्ष्य निर्धारण की व्यवस्था करते हैं।
  • WASH सेवा वितरण के कार्यान्वयन, निरीक्षण और विनियमन के साथ कार्यरत सरकारी संस्थानों एवं प्रणालियों को मज़बूत करके स्थायी (सतत्) परिवर्तन को बढ़ावा देना
  • स्वास्थ्य संबंधी मुद्दों की WASH सेक्टर द्वारा पहचान तथा उनका समाधान सुनिश्चित करने के लिये सहयोगियों के साथ साझेदारी करना, इस साझेदारी को सकारात्मक रूप से प्रभावित करना, इसके अलावा यह भी सुनिश्चित करना कि WASH के मुद्दे विशेष रूप से स्वास्थ्य देखभाल सुविधाओं से ही संबंधित हों।

WASH के लिये WHO के प्रमुख भागीदार एवं हितधारक

  • सदस्य राज्य: सार्वजनिक स्वास्थ्य, पेयजल आपूर्ति, स्वच्छता एवं अपशिष्ट प्रबंधन, जल संसाधन विकास एवं प्रबंधन, पर्यावरण से संबंधित नीतियों और कार्यक्रमों के लिये ज़िम्मेदार राष्ट्रीय तथा स्थानीय सरकारी संस्थाएँ।
  • व्यवसायी (Practitioners): जल आपूर्तिकर्त्ता, स्वच्छता सेवा प्रदाता, अपशिष्ट प्रबंधन संस्थाएँ।
  • अनुसंधान एवं विकास के लिये संस्थान: वैज्ञानिक विशेषज्ञ सलाहकार पैनल, शिक्षाविद्, अनुसंधान समूह तथा WHO के सहयोगी केंद्र।
  • WASH सेक्टर के भागीदार: संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (UNICEF) तथा संयुक्त राष्ट्र-जल (UN-Water) में भागीदार संयुक्त राष्ट्र की अन्य एजेंसियाँ​।
  • स्वास्थ्य क्षेत्र के भागीदार: वैश्विक स्तर के भागीदार, जैसे कि ग्लोबल टास्क फोर्स ऑन कॉलरा कंट्रोल (Global Task Force on Cholera Control-GTFCC), AMR ग्लोबल एक्शन प्लान, उपेक्षित उष्णकटिबंधीय रोग (Neglected Tropical Diseases-NTDs) नेटवर्क, संक्रमण की रोकथाम और नियंत्रण (Infection Prevention and Control-IPC) से संबंधित चिकित्सकों सहित संक्रमण नियंत्रण अफ्रीका नेटवर्क (Infection Control Africa Network-ICAN)।
  • बाह्य सहायता एजेंसियाँ ​​(External Support Agencies-ESAs): उदाहरण के लिये विश्व बैंक (World Bank), जापान इंटरनेशनल को-ऑपरेशन एजेंसी (Japan International Cooperation Agency-JICA), बिल एंड मेलिंडा गेट्स फॉउंडेशन (Bill and Melinda Gates Foundation) आदि।

वॉश और स्वास्थ (WASH and Health)

  • सुरक्षित WASH न केवल स्वास्थ्य के लिये पहली आवश्यकता है, बल्कि यह आजीविका, स्कूल में उपस्थिति एवं गरिमा बढ़ाने में भी योगदान देता है तथा ऐसे समुदायों का विकास करता है जो स्वस्थ वातावरण में रहते हैं।
  • असुरक्षित जल पीने से होने वाली दस्त जैसी बीमारियों के कारण स्वास्थ्य बिगड़ता है; अनुपचारित मल-मूत्र घरेलू प्रयोजनों के लिये उपयोग किये जाने वाले भूजल तथा सतह के जल को दूषित करता है। इससे समुदायों पर भारी दबाव पड़ता है।
  • जल का रासायनिक प्रदूषण चाहे वह जल में मौज़ूद आर्सेनिक और फ्लोराइड जैसे प्राकृतिक तत्त्वों के कारण हो या नाइट्रेट जैसे मानवजनित (Anthropogenic) तत्त्वों के कारण, स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव डालता है।
  • सुरक्षित एवं पर्याप्त WASH कई उपेक्षित उष्णकटिबंधीय रोगों को रोकने में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाता है।
  • सहस्राब्दि विकास लक्ष्य (Millennium Development Goal-MDG) अवधि के दौरान अपर्याप्त WASH के परिणामस्वरूप जल एवं स्वच्छता प्रावधानों में महत्त्वपूर्ण सुधार होने से डायरिया से होने वाली मौतों की संख्या आधी से कम हो गई है।
  • AMR की उभरती चुनौती स्वास्थ्य क्षेत्र पर भारी पड़ रही है और इसके कारण चिकित्सा हस्तक्षेप धीरे-धीरे कमज़ोर हो रहा है।
  • पेयजल आपूर्ति, स्वच्छता तथा अपशिष्ट प्रबंधन बुनियादी ढाँचे एवं सेवाओं में सुधार से संक्रमण को रोका जा सकेगा तथा भविष्य की ज़रूरतों के लिये एंटीबायोटिक्स और अन्य दवाओं के संरक्षण में मदद मिलेगी।
  • WASH गुणवत्तापूर्ण UHC का एक अनिवार्य तत्त्व है, संयुक्त राष्ट्र द्वारा इसे एक मौलिक मानव अधिकार के रूप में मान्यता प्राप्त है और यह किफायती है।

WHO तथा WASH

  • WHO ने अपनी स्थापना के बाद से वैश्विक स्तर पर WASH की निगरानी का कार्य किया है और यह राष्ट्रों द्वारा नीतिगत निर्णयों को निर्धारित करने के लिये एक विश्वसनीय तथा व्यापक आधार प्रदान करता है।
  • विश्व स्वास्थ्य संगठन WASH संबंधी बुनियादी ढाँचा परियोजनाओं को प्रत्यक्ष रूप से लागू नहीं करता है।
  • विश्व स्वास्थ्य संगठन WASH के ऐसे मुद्दों जिसमें स्वास्थ्य संबंधी निहितार्थ हो सकते हैं, को दूर करने में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाता है, जैसे कि उभरते प्रदूषक।

WHO कैसे प्रभाव डालता है?

  • WHO की WASH और स्वास्थ्य अंतर-क्षेत्रीय योजना में सुधार करने की क्षमता, स्वास्थ्य जल एवं पर्यावरण, नियामकों, जल एवं स्वच्छता सेवा प्रदाताओं, ग्रामीण अधिकारियों तथा बाहरी सहायता एजेंसियों और मंत्रालयों को एकत्रित करने की शक्तियों से उपजी है।
  • WHO ने मानकों एवं मानदंडों को प्रभावित करने के लिये अपनी शक्तियों का उपयोग संयुक्त राष्ट्र की अन्य एजेंसियों या स्वास्थ्य मंत्रालयों के समन्वय के माध्यम से किया है।

परिवर्तन की आवश्यकता

  • वैश्विक पर्यावरण के तीव्र एवं हालिया परिवर्तनों जिनमें जलवायु परिवर्तन के प्रभाव तथा शहरी आबादी में अभूतपूर्व वृद्धि भी शामिल है, के कारण WASH से संबंधित नए मुद्दे और चुनौतियाँ उभरकर सामने आई हैं।
  • इसके अलावा, लगातार सामूहिक प्रयासों के बावजूद WASH से संबंधित बीमारियाँ अभी भी प्रबल हैं। शहरी एवं ग्रामीण, गरीब एवं अमीर तथा सामान्य एवं कमज़ोर आबादी समूहों के बीच वृहद् असमानताएँ अभी भी बनी हुई हैं।
  • एंटीबायोटिक दवाओं के व्यापक उपयोग ने दोषपूर्ण सफाई एवं स्वच्छता की स्थिति से उत्पन्न होने वाले संक्रमण के नियंत्रण में योगदान किया है, फिर भी इसके विपरीत WASH की उपेक्षा को भी बढ़ावा दिया है। अब स्पष्ट रूप से AMR के कारण नए एवं अभिनव प्रतिक्रियाओं और दृष्टिकोणों की आवश्यकता है।
  • WASH एक जटिल, बहुआयामी क्षेत्र है जिसका विस्तार आमतौर पर कई सरकारी मंत्रालयों एवं संस्थानों तक है, यह स्वास्थ्य क्षेत्र में बीमारी की रोकथाम एवं नियंत्रण कार्यक्रमों और गुणवत्ता देखभाल की पहल तथा गैर-स्वास्थ्य क्षेत्रों की एक प्रभावशाली श्रृंखला को दर्शाता है।
  • WHO के WASH प्रयासों की प्रभावशीलता को बढ़ाने के लिये हमें अन्य हस्तक्षेपों के माध्यम से WASH की लागत-प्रभावशीलता तथा सकारात्मक आर्थिक एवं स्वास्थ्य प्रभावों के बढ़ते कारणों को अधिक प्रभावी ढंग से व्यक्त करने की आवश्यकता है।
  • WASH को AMR, हैजा, जलवायु परिवर्तन, आपात स्थिति, IPC, MNCH, पोषण एवं NTDs जैसे अन्य कार्यक्रमों से जोड़ने से संसाधनों तक पहुँच की प्रक्रिया को सक्षम बनाने तथा इन कार्यक्रमों के स्थायी प्रभावों को बढ़ाने एवं अपनी लोचशीलता को मज़बूत करने में WASH की केंद्रीय भूमिका को दर्शाता है।
  • पेयजल की गुणवत्ता एवं आपूर्ति तथा विशेष रूप से स्वच्छता हेतु जोखिम मूल्यांकन में दीर्घकालिक जलवायु परिवर्तन के कारकों को शामिल करने में अक्सर अनदेखी की जाती है, लेकिन समय के साथ इन कारकों को शामिल करना आवश्यक हो जाएगा।

सतत् विकास लक्ष्य, विश्व स्वास्थ्य संगठन और वॉश
(SDG, WHO and WASH)

  • सतत् विकास लक्ष्य (SDGs), वॉश-केंद्रित लक्ष्य 6 से परे, स्वास्थ्य, शिक्षा, जलवायु परिवर्तन, पोषण, ऊर्जा एवं गरीबी को समाप्त करने हेतु महत्त्वाकांक्षी SDG लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिये आवश्यक अंतर-क्षेत्रीय सहयोग तथा तालमेल के प्रयासों में WASH के महत्त्व को उजागर करते हैं।
  • SDG के तहत स्वास्थ्य लक्ष्य 3 तथा जलवायु परिवर्तन लक्ष्य 13 सहित कई SDGs उद्देश्यों की पूर्ति, लक्ष्य 6 की सार्थक प्रगति के बिना नहीं की जा सकती।
  • 2030 एजेंडा के अंतर्गत एकीकृत एवं बहु-क्षेत्रीय प्रतिक्रियाओं पर ज़ोर दिया जाना, WHO के भीतर तथा उससे परे (जिसमें शिक्षा, शहरी नियोजन, वित्तपोषण जैसे क्षेत्र शामिल हैं) WASH के समन्वय और नेतृत्व की आवश्यकता को दर्शाता है।
  • WHO मुख्य रूप से SDG 6 लक्ष्यों के संरक्षक या सह-संरक्षक के रूप में वैश्विक विस्तारित निगरानी पहल (Global Expanded Monitoring Initiative-GEMI), जल आपूर्ति, सफाई एवं स्वच्छता के लिये संयुक्त निगरानी कार्यक्रम (JMP) तथा वैश्विक विश्लेषण एवं स्वच्छता और पेयजल का आकलन (GLAAS) के माध्यम से WASH संबंधित सतत् विकास लक्ष्यों की निगरानी में शामिल है।

अंतर-क्षेत्रीय तथा क्रॉस प्रोग्राम (Cross Programme) सहयोग को मज़बूत करना

  • सभी क्षेत्रों एवं कार्यक्रमों तथा सभी स्तरों पर WASH के एकीकरण तथा सहयोग को बढ़ावा देना।
  • चूँकि स्वास्थ्य क्षेत्र WHO का एक प्राथमिक साझेदार बना रहेगा ऐसे में सरकार के संपूर्ण दृष्टिकोण पर ध्यान केंद्रित करने का मतलब है कि WASH पर WHO के कार्यों का स्वास्थ्य क्षेत्र में व्यापक विस्तार होना चाहिये।
  • राष्ट्र स्तर पर यूनिसेफ (UNICEF) जैसे भागीदार WHO मानकों या प्रशिक्षण विनिर्देशों के प्रावधान के साथ अपने सेवा वितरण प्रयासों के महत्त्व को बढ़ाते हैं।

WASH के लिये WHO की रणनीतिक योजना: 2018-2025

रणनीतिक दृष्टिकोण 2018–2025

WHO विशिष्ट रूप से निम्नलिखित रणनीतिक दृष्टिकोणों, जो कि इसके मौजूदा कार्य एवं स्थापित विश्वसनीयता और विशेषज्ञता के आधार पर स्थापित किया गया है, के माध्यम से अपनी प्रभाविता को हासिल करता है-

  • स्वास्थ्य-आधारित मार्गदर्शन दस्तावेज़ों तथा सर्वोत्तम अभ्यास मार्गदर्शिकाओं और राष्ट्र स्तर पर मानकों एवं विनियमों के निर्धारण का समर्थन करने वाले नियमों तथा मानदंडों का विकास करना, उन्हें अद्यतन (update) करना तथा उनका प्रसार करना।
  • राष्ट्रों को बहु-क्षेत्रीय तकनीकी सहयोग देना तथा सरकारों, चिकित्सकों और भागीदारों को सलाह देकर उनका क्षमता निर्माण करना।
  • अनुसंधान की निगरानी तथा नीतियों एवं कार्यक्रमों को सूचित करने हेतु भरोसेमंद एवं विश्वसनीय WASH डेटा का उपयोग करना।
  • बहु-क्षेत्रीय सहयोगियों के साथ समन्वय करना, वैश्विक अथवा क्षेत्रीय प्लेटफॉर्मों को नेतृत्व प्रदान करना या संलग्न करना तथा WASH की हिमायत करना।
  • अन्य स्वास्थ्य कार्यक्रमों के साथ WASH के एकीकरण को बढ़ावा देना, उदाहरण के लिये हैजा और NTDs रोगों के उन्मूलन के लिये आयोजित किये जा रहे कार्यक्रम।
  • जलवायु परिवर्तन तथा WASH जैसे उभरते मुद्दों , जिसमें सार्वजनिक स्वास्थ्य पर जल की कमी का प्रभाव तथा AMR शामिल हैं, का समाधान निकालना।

प्राथमिक हस्तक्षेप वाले क्षेत्र 2018-2025

WHO, WASH गतिविधियों का आयोजन निम्नलिखित प्राथमिकता वाले क्षेत्रों में करेगा जहाँ इसकी मौजूदा गतिविधियाँ एवं साझेदारियाँ हैं अथवा इसकी उभरती हुई भूमिका है:

  • पानी की गुणवत्ता और सुरक्षा- राष्ट्रीय संदर्भों में जल गुणवत्ता संदूषकों (Contaminants) से जुड़े मानव स्वास्थ्य जोखिमों पर अधिकृत एवं विषय आधारित जानकारी प्रदान करना ।
  • स्वच्छता एवं अपशिष्ट प्रबंधन में सुधार करना, स्वच्छता हस्तक्षेप से होने वाले स्वास्थ्य लाभ को अधिकतम करना।
  • स्वास्थ्य देखभाल सुविधाओं में WASH- (स्वास्थ्य देखभाल अपशिष्ट प्रबंधन सहित) राष्ट्र के मानकों, नीतियों तथा निगरानी को समर्थन प्रदान करना।
  • वैश्विक रोगाणुरोधी प्रतिरोध निगरानी प्रणाली (GLobal Antimicrobial resistance Surveillance System-GLASS)- नीति एवं निर्णय लेने वालों को निवेश के व्यापक वैश्विक विश्लेषण तथा WASH के लिये सक्षम वातावरण प्रदान करने के लिये।
  • जल आपूर्ति और स्वच्छता के लिये संयुक्त निगरानी कार्यक्रम (Joint Monitoring Programme for Water Supply and Sanitation-JMP)- सुरक्षित पेयजल, सफाई एवं स्वच्छता हेतु सार्वभौमिक पहुँच की दिशा में हो रही प्रगति पर राष्ट्रीय, क्षेत्रीय और वैश्विक निगरानी तथा रिपोर्टिंग में मदद करने के लिये।
  • स्वास्थ्य तथा अन्य कार्यक्रमों जैसे AMR, हैजा, जलवायु परिवर्तन, आपात स्थिति, IPC, NTDs, पोषण, UHC, जल सुरक्षा जैसे कार्यक्रमों में सहयोग एवं प्रभाव को बढ़ाने के लिये WASH का एकीकरण।
  • AMR, जलवायु परिवर्तन तथा प्रदूषण के उभरते नए क्षेत्रों की समस्याओं को हल करने के लिये WASH में नए मुद्दों को शामिल करना।

WASH की इस रणनीति से लाभ

कार्यों को फिर से शुरू करना

  • राजनीतिक इच्छाशक्ति, वित्तीय संसाधन और मानव संसाधन के साथ ऊपर वर्णित अपेक्षित परिणाम देने के लिये वैश्विक, क्षेत्रीय, राष्ट्रीय और उप-राष्ट्रीय स्तरों पर WASH विशेषज्ञता, अनुभव, सहयोग और आउटरीच कौशल की आवश्यकता होगी।

निवेश संबंधित अध्ययन

  • WHO की निवेश संबंधी अध्ययन रिपोर्ट (Case Study) यह दर्शाती है कि WASH में किया गया निवेश, स्वास्थ्य क्षेत्र के भीतर एवं बाहर दोनों जगह, निवेश का तीन गुना रिटर्न प्रदान करेगा तथा 2019 एवं 2023 के बीच सीधे तौर पर लगभग 1 मिलियन लोगों के जीवन की रक्षा करेगा।
  • इसके अलावा, AMR तथा जलवायु परिवर्तन जैसे अन्य स्वास्थ्य कार्यक्रमों में WASH का एकीकरण किया जाना इन कार्यक्रमों के स्वास्थ्य एवं आर्थिक क्षेत्र के लाभ में महत्त्वपूर्ण योगदान दे सकता है।

निवेश की उपयोगिता

WHO निम्नलिखित के माध्यम से यह सुनिश्चित करेगा कि रणनीति का परिचालन निवेश में बेहतर रिटर्न प्रदान करता है-

  • WHO द्वारा WASH क्षेत्र के राष्ट्रीय वित्तपोषण की निगरानी (Tracking National Financing-TrackFin) राष्ट्रीय लक्ष्यों को हासिल करने में WASH निधियों के अधिक प्रभावी उपयोग का समर्थन करता है।
  • WHO की बहु-क्षेत्रीय संयोजक शक्ति WASH के लिये कई सरकारी एवं गैर-सरकारी हितधारकों को अधिक दक्षता प्रदान करती है।

WHO-WASH प्राथमिकता हस्तक्षेप वाले क्षेत्र

पेयजल तथा रिक्रिएशनल वाटर (Recreational Water) की गुणवत्ता और सुरक्षा

बदलते उद्देश्य:

  • जल सुरक्षा के क्षेत्र में निरंतर एवं सतत् सुधार और एसडीजी 6 सूचक की उपलब्धियों को हासिल करने के लिये राष्ट्रीय तथा क्षेत्रीय रिक्रिएशनल वॉटर गुणवत्ता नियमों में सार्वजनिक स्वास्थ्य मानदंड को शामिल किया गया है।
  • उपरोक्त गतिविधियों का समन्वित तथा अंतर-क्षेत्रीय नियोजन एवं कार्यान्वयन।
  • स्थानिक क्षेत्रों और कमज़ोर समूहों को लक्षित करके इसकी पहुँच के मार्ग में व्याप्त असमानताओं को कम करना।

समस्या का विवरण/असर:

  • 2.1 बिलियन लोगों तक सुरक्षित पेयजल आपूर्ति की कमी है, SDG कि महत्त्वाकांक्षा हर घर तक सुरक्षित पेयजल की पहुँच सुनिश्चित करना है ऐसे में SDG लक्ष्यों की प्राप्ति संभवतः स्वास्थ्य प्रभाव के महत्तव को रेखांकित करती है।
  • अनुभव के आधार पर कहा जा सकता है कि दिशा-निर्देशों को लागू करने के लिये राष्ट्रों को और अधिक ध्यान देने की आवश्यकता है।

स्वच्छता और अपशिष्ट जल

बदलते उद्देश्य:

  • राष्ट्रीय नीतियों में स्वास्थ्य जोखिमों का मूल्यांकन और प्रबंधन करना तथा स्थानीय स्तर पर सेवा मुहैया कराना, जिसमें स्वच्छता सुरक्षा योजना तक पहुँच भी शामिल है।
  • स्थानिक क्षेत्रों एवं रोगों की चपेट में आने वाले समूहों को लक्षित करके उन तक पहुँचने में आने वाली बाधाओं को कम करना, ताकि रोग के प्रसार को बेहतर ढंग से रोका जा सके।
  • जलवायु परिवर्तन अनुकूलन उपायों के रूप में कार्यान्वित स्वच्छता प्रणालियों द्वारा अपशिष्ट जल के सुरक्षित पुन: उपयोग एवं जलवायु परिवर्तन योजना में पर्याप्त वृद्धि।
  • साक्ष्य-आधारित समीक्षाओं एवं प्रसार के माध्यम से दर्शाए गए उभरते जोखिम तथा प्राथमिकताएँ।

स्वास्थ्य देखभाल सुविधाओं (HCF) में WASH

  • स्वास्थ्य देखभाल सुविधाओं (HCF) में WASH और स्वास्थ्य देखभाल अपशिष्ट प्रबंधन को वैश्विक तथा राष्ट्रीय स्वास्थ्य नीतियों एवं कार्यक्रमों में शामिल किया गया है।
  • इसमें AMR, IPC तथा गुणवत्तापरक UHC जैसे प्राथमिकता वाले क्षेत्र शामिल हैं। इस प्रकार की योजनाओं के विकास और कार्यान्वयन के लिये HCF में प्रमुख निर्णयकर्त्ताओं, स्वास्थ्य सुविधा कर्मचारियों एवं WASH पारंगत उपयोगकर्त्ताओं की आवश्यकता होती है।
  • वैश्विक एवं राष्ट्रीय स्वास्थ्य तथा WASH की निगरानी के अंतर्गत स्वास्थ्य देखभाल सुविधाओं में WASH को ट्रैक करने के लिये सामंजस्यपूर्ण कोर (Harmonized Core) तथा विस्तारित संकेतक शामिल हैं।

जल स्वच्छता एवं पेयजल का वैश्विक विश्लेषण तथा आकलन
(Global Analysis and Assessment of Sanitation and Drinking-water-GLAAS)

  • WHO को निगरानी का व्यापक अनुभव है तथा यह डेटा एकत्र करने उसका विश्लेषण करने और उसे प्रस्तुत करने हेतु एक निष्पक्ष एवं विश्वसनीय स्रोत है। WHO, GLAAS के ज़रिये, वर्ष 2008 से ही WASH के लिये सक्षम वातावरण की निगरानी कर रहा है।
  • GLAAS अब व्यापक पहुँच के साथ एक स्थापित प्रक्रिया है। उल्लेखनीय है की 100 से अधिक देशों ने GLAAS में भाग लिया है। GLAAS का मुख्य कार्य वित्त एवं पर्यावरण को सक्षम बनाना तथा राष्ट्रीय लक्ष्य-निर्धारण प्रक्रियाओं के लिये इनपुट/जानकारी प्रदान करना हैं।
  • GLAAS डेटा पारदर्शिता एवं जवाबदेही को मज़बूत करने में योगदान देता है तथा ऐसे मुद्दों एवं चुनौतियों की पहचान करने में मदद करता है जो कई विकासशील देशों में सामूहिक रूप से मौज़ूद हैं।

कार्यकलाप तथा आउटपुट:

  • GLAAS के अंतर्गत देश-सर्वेक्षण के माध्यम से WASH सक्षम वातावरण पर डेटा एकत्रित करना तथा उसकी पुष्टि के लिये देशों और भागीदारों के साथ मिलकर काम करना।
  • GLAAS एवं TrackFin डेटा संग्रह प्रक्रियाओं के माध्यम से राष्ट्रीय क्षमता और राष्ट्रीय निगरानी प्रणाली जैसी प्रक्रियाओं को मज़बूत करना।
  • GLAAS रिपोर्ट, क्षेत्र एवं देश आधारित विशिष्टताओं, SDG रिपोर्टिंग और ऑनलाइन डेटाबेस से प्राप्त आँकड़ों के संकलन और विश्लेषण के माध्यम से WASH को समर्थन करने वाले परिवेश तथा सिद्धांतों को प्रसारित करना।
  • राष्ट्रीय WASH लक्ष्य की पहचान कर उनका वर्गीकरण करना।

WASH एवं आपात स्थितियाँ

बदलते उद्देश्य:

  • WASH के मुख्य तत्त्व के रूप में स्वास्थ्य आपातकालीन तैयारी, प्रतिक्रिया एवं पुनर्प्राप्ति को शामिल किया गया है तथा यह मुख्य प्रशिक्षण, मार्गदर्शन एवं राष्ट्रीय बजट में परिलक्षित होता है।
  • आपात स्थितियों में परिचालनात्मक साक्ष्य आधार के लिये महत्त्वपूर्ण मूल्य वर्द्धित WASH-प्रथाओं को मज़बूत किया गया है (जैसे कि घरेलू और केंद्रीय दोनों स्तरों पर आपात स्थितियों में प्रभावी कीटाणुशोधन प्रक्रियाएँ तथा आपात स्थितियों में मानव अपशिष्ट के सुरक्षित निपटान से संबंधित व्यापक मुद्दे) ।
  • WASH तथा स्वास्थ्य समूहों एवं राष्ट्र स्तर पर मंत्रालयों के बीच अंत:क्षेत्रीय योजना एवं सहकार्यता को सहज बनाया गया है।

समस्या/समाधान:

  • आपात स्थितियाँ और अधिक तेज़ी से जटिल होती जा रही हैं तथा पहले की तुलना में अधिक आबादी को प्रभावित कर रही हैं। जलवायु परिवर्तन, प्राकृतिक आपदाएँ, बढ़ती असमानता और शहरीकरण इत्यादि लगभग 65 मिलियन लोगों को प्रभावित करती हैं।
  • WHO 27 देशों में घटनाओं पर होने वाले वैश्विक प्रतिक्रिया का समन्वय कर रहा है।

WHO की अनूठी भूमिका एवं महत्त्व:

  • WHO सार्वजनिक स्वास्थ्य प्राथमिकताओं की समस्याओं को हल करने के लिये प्रभावी एवं समयबद्ध कार्रवाई सुनिश्चित करके संकट तथा आपात स्थिति से निपटने के लिये विभिन्न देशों के साथ मिलकर काम कर रहा है।
  • आपात स्थितियों में WHO जल की गुणवत्ता सुनिश्चित करने, जल से संबंधित स्वास्थ्य जोखिमों को कम करने तथा स्वास्थ्य देखभाल सुविधाओं में WASH के प्रावधानों को लागू करने के लिये स्वास्थ्य मंत्रालयों के साथ मिलकर काम करने के लिये अधिकृत है।
  • अंतर्राष्ट्रीय मानकों एवं मानक जानकारी विकसित करने में WHO की विशेषज्ञता इसे WASH संबंधित आपात स्थितियों में आधिकारिक तकनीकी मार्गदर्शन और सहायता प्रदान करने में मदद करती है।
  • WHO का WASH कार्यक्रम WHO के नए हेल्थ इमर्जेंसीज़ (WHO’s new Health Emergencies-WHE) कार्यक्रम, वैश्विक एवं राष्ट्रीय WASH तथा स्वास्थ्य समूहों और अन्य भागीदार समूहों के साथ मिलकर काम करेगा।

WASH और उपेक्षित उष्णकटिबंधीय बीमारियाँ (NTDs)

  • NTDs की रोकथाम एवं प्रबंधन के लिये WASH महत्त्वपूर्ण है क्योंकि कि वर्ष 2020 तक NTDs के तीव्र नियंत्रण या उन्मूलन का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।
  • सुरक्षित जल, सफाई एवं स्वच्छता का प्रावधान वैश्विक NTD रोडमैप के पाँच प्रमुख हस्तक्षेपों में से एक है। लेकिन अभी तक रणनीतिक WASH घटकों पर बहुत कम ध्यान दिया गया है तथा WASH और NTDs को जोड़ने के प्रयासों की क्षमता काफी हद तक अप्रयुक्त है।
  • यदि वैश्विक NTD रोडमैप लक्ष्यों को पूरा करना हैं तो WASH पर केंद्रित प्रयासों की तत्काल आवश्यकता है।
  • क्षेत्रीय तथा राष्ट्र स्तरों पर संयुक्त क्रॉस-NTD एवं WASH समन्वय प्रक्रियाओं का समर्थन करना आवश्यक है।

WASH तथा उभरते हुए मुद्दे

WASH और जलवायु परिवर्तन

बदलते उद्देश्य:

  • WASH और प्रभावी मार्गदर्शन प्रक्रिया के माध्यम से स्वास्थ्य पर जलवायु परिवर्तन के प्रभावों को विकसित मार्गदर्शन के बीच संबंधों के आधार पर सशक्त साक्ष्य प्रस्तुत करना।
  • सभी स्तरों पर आंतरिक योजना और सहयोग की सुविधा को बढ़ावा देना।
  • WASH जोखिम मूल्यांकन तथा प्रबंधन दृष्टिकोणों में प्रासंगिक रूप से जलवायु परिवर्तनशीलता एवं परिवर्तन संबंधी विचारों को शामिल करना।
  • सभी स्तरों पर प्रासंगिक WASH निगरानी प्रणालियों में जलवायु परिवर्तन के विचार को शामिल करना।

समस्या का असर:

  • जल एवं स्वच्छता संबंधी प्रणालियों की बढ़ती संख्या जलवायु परिवर्तन की चपेट में आ जाएगी।

WHO की अनूठी भूमिका

  • WHO WASH-रणनीति का कार्यान्वयन, WASH जोखिम मूल्यांकन तथा प्रोग्रामिंग में जलवायु परिवर्तन के विचारों के एकीकरण को मज़बूत करेगा।
  • यह रणनीति WHO द्वारा सभी स्तरों पर स्वास्थ्य मंत्रालयों एवं WASH कार्यक्रमों को पूरा करने से संबंधित मंत्रालय, मौसम संबंधी सेवाओं, जलवायु परिवर्तन तथा WASH कार्यक्रम प्रबंधकों द्वारा सभी स्तरों पर कार्रवाई की सूचना देती है।
  • यह WASH तथा जलवायु परिवर्तन से निपटने वाली विकास एजेंसियों की कार्रवाइयों को भी सूचित करती है, जिसमें दाता (Donors), गैर-सरकारी संगठन एवं अन्य संयुक्त राष्ट्र एजेंसियाँ ​​शामिल हैं।

जल संसाधन और स्वास्थ्य

समस्या का वितरण तथा प्रभाव

  • पानी से जुड़े वेक्टर जनित रोग जिनमें मलेरिया तथा NTDs जैसी कई बीमारियाँ शामिल हैं, कई देशों में एक प्रमुख सार्वजनिक स्वास्थ्य समस्या है।
  • केस डिटेक्शन एंड ट्रीटमेंट को मज़बूत बनाने, ड्रग ट्रीटमेंट, वेक्टर कंट्रोल और वैक्सीन के विकास और वितरण के माध्यम से इनमें से कुछ बीमारियों की रोकथाम और नियंत्रण में महत्वपूर्ण प्रगति हुई है।
  • SDG ढाँचे में जल का व्यापक दायरा WHO के WASH कार्यक्रम के लिये स्थायी तरीके से जल से जुड़े वेक्टर-जनित रोगों से निपटने के प्रयासों को पुनर्जीवित करने का अवसर प्रदान करता है।
  • रोग वैक्टर की पारिस्थितिकी और जीव विज्ञान में विविधता के लिये स्थानीय परिस्थितियों के साक्ष्य-आधारित आकलन की आवश्यकता होती है जहाँ जल संसाधन विकास हो रहा है। यह जल विज्ञान और जलीय पारिस्थितिक तंत्र में तेज़ी से बदलाव की स्थितियों के तहत महत्त्वपूर्ण है।
एसएमएस अलर्ट
 

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

प्रोग्रेस सूची देखने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

आर्टिकल्स को बुकमार्क करने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close