प्रयागराज शाखा पर IAS GS फाउंडेशन का नया बैच 10 जून से शुरू :   संपर्क करें
ध्यान दें:

प्रारंभिक परीक्षा


प्रारंभिक परीक्षा

बैटरी अपशिष्ट प्रबंधन नियम, 2022

  • 27 Aug 2022
  • 6 min read

प्रिलिम्स के लिये:

पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय (MOFEFCC), बैटरी अपशिष्ट प्रबंधन नियम (2022), विस्तारित उत्पादक ज़िम्मेदारी (EPR), अपशिष्ट प्रबंधन, प्रदूषक भुगतान का सिद्धांत।।

मेन्स के लिये:

अपशिष्ट बैटरी का प्रबंधन।

हाल ही में पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय (MOEFCC) ने अपशिष्ट बैटरियों का पर्यावरणीय रूप से ठोस प्रबंधन सुनिश्चित करने के लिये बैटरी अपशिष्ट प्रबंधन नियम, 2022 को अधिसूचित किया।

  • ये नियम बैटरी (प्रबंधन और हैंडलिंग) नियम, 2001 का स्थान लेंगे।

नियमों की मुख्य विशेषताएंँ क्या हैं?

  • कवरेज:
    • नियम इलेक्ट्रिक वाहन बैटरी, पोर्टेबल बैटरी, ऑटोमोटिव बैटरी और औद्योगिक बैटरी सहित सभी प्रकार की बैटरी को कवर करते हैं।
  • विस्तारित निर्माता उत्तरदायित्व (EPR):
    • नियम विस्तारित निर्माता उत्तरदायित्व (EPR) की अवधारणा के आधार पर कार्य करते हैं जहाँ बैटरी के निर्माता अपशिष्ट बैटरियों के संग्रह और पुनर्चक्रण/नवीनीकरण तथा अपशिषे से प्राप्त सामग्री के नई बैटरी में उपयोग के लिये ज़िम्मेदार होते हैं।
      • EPR अनिवार्य करता है कि सभी अपशिष्ट बैटरियों को एकत्र किया जाए और पुनर्चक्रण/नवीनीकरण के लिये भेजा जाएऔर यह लैंडफिल तथा भस्मीकरण से निपटान को प्रतिबंधित करता है।
      • EPR दायित्त्वों को पूरा करने के लिये उत्पादक स्वयं को संलग्न कर सकते हैं या अपशिष्ट बैटरियों के संग्रह, पुनर्चक्रण या नवीनीकरण के लिये किसी अन्य संस्था को अधिकृत कर सकते हैं।
        • यह उत्पादकों के दायित्त्वों को पूरा करने के लिए उत्पादकों और पुनर्चक्रणकर्ताओं / नवीनीकरणकर्ताओं के बीच EPR प्रमाणपत्रों के आदान-प्रदान के लिये एक तंत्र और केंद्रीकृत ऑनलाइन पोर्टल की स्थापना को सक्षम करेगा।
  • अपशिष्ट प्रबंधन:
    • वे अपशिष्ट बैटरियों के संग्रह और पुनर्चक्रण/नवीनीकरण में नए उद्योगों एवं उद्यमिता की स्थापना को बढ़ावा देते हैं।
  • व्यापार के नए अवसर:
    • नियमों के तहत अपशिष्ट बैटरी से सामग्री की पुनर्प्राप्ति का न्यूनतम प्रतिशत अनिवार्य करने से पुनर्चक्रण और नवीनीकरण उद्योग में नई प्रौद्योगिकियाँ एवं निवेश आएगा तथा व्यापार के नए अवसर उत्पन्न होंगे।
  • कच्चे माल पर निर्भरता में कमी:
    • नई बैटरियों के निर्माण में एक निश्चित संख्या में पुनर्नवीनीकरण सामग्री के उपयोग को निर्धारित करने से नए कच्चे माल पर निर्भरता कम होगी और प्राकृतिक संसाधनों की बचत होगी।
  • ऑनलाइन पंजीकरण:
    • ऑनलाइन पंजीकरण और रिपोर्टिंग, लेखा परीक्षा, एवं नियमों के कार्यान्वयन की निगरानी तथा कठिनाइयों को दूर करने के लिये आवश्यक उपाय करने हेतु समिति की स्थापना करना।
  • प्रदूषक भुगतान का सिद्धांत (Principle of Polluter Pays):
    • नियमों में निर्धारित विस्तारित उत्पादक उत्तरदायित्त्व (Extended Producer Responsibility) लक्ष्यों, ज़िम्मेदारियों और दायित्त्वों की पूर्ति न करने पर पर्यावरण क्षतिपूर्ति शुल्क लगाया जाएगा।
  • पर्यावरण क्षतिपूर्ति कोष:
    • पर्यावरणीय क्षतिपूर्ति के तहत एकत्र की गई धनराशि का उपयोग असंकलित और गैर-पुनर्नवीनीकरण अपशिष्ट बैटरियों के संग्रह एवं नवीनीकरण या पुनर्चक्रण में किया जाएगा।

UPSC सिविल सेवा परीक्षा, विगत वर्षों के प्रश्न:

प्रिलिम्स:

Q. एक शुष्क सेल (बैटरी) में, निम्नलिखित में से किसे इलेक्ट्रोलाइट्स के रूप में उपयोग किया जाता है? (2009)

(a) अमोनियम क्लोराइड और जिंक क्लोराइड
(b) सोडियम क्लोराइड और कैल्शियम क्लोराइड
(c) मैग्नीशियम क्लोराइड और जिंक क्लोराइड
(d) अमोनियम क्लोराइड और कैल्शियम क्लोराइड

उत्तर:A

व्याख्या:

  • शुष्क सेल (बैटरी), लेक्लेन्श सेल का फ्लैशलाइट और ट्रांजिस्टर रेडियो में प्रयोग किया जाता है।
  • शुष्क सेल के एनोड में एक जिंक कंटेनर होता है जो मैंगनीज डाइऑक्साइड (MnO2) और एक इलेक्ट्रोलाइट से जुड़ा होता है।
  • इलेक्ट्रोलाइट के जल में अमोनियम क्लोराइड और जिंक क्लोराइड होता है जिसमें घोल को गाढ़ा करने के लिये स्टार्च मिलाया जाता है ताकि इसका पेस्ट गाढ़ा हो जाए जिससे इसके रिसाव की संभावना कम हो। अतः विकल्प (A) सही है।

मेन्स:

Q. निरंतर उत्पन्न होने वाले भारी मात्रा में छोड़े गए ठोस कचरे के निपटान में क्या बाधाएँ हैं? हम अपने वातावरण में जमा हो रहे जहरीले कचरे को सुरक्षित रूप से कैसे हटा सकते हैं। (2016)

 स्रोत: पी.आई.बी.

close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2