प्रयागराज शाखा पर IAS GS फाउंडेशन का नया बैच 10 जून से शुरू :   संपर्क करें
ध्यान दें:

डेली अपडेट्स


प्रारंभिक परीक्षा

नेटवर्क रेडीनेस इंडेक्स 2022

  • 22 Nov 2022
  • 4 min read

हाल ही में जारी नेटवर्क रेडीनेस इंडेक्स 2022 (NRI-2022) की रिपोर्ट के अनुसार भारत ने अपनी स्थिति में छह स्थानों का सुधार किया है और अब इसे 61वें स्थान पर रखा गया है।

नेटवर्क रेडीनेस इंडेक्स 2022:

  • परिचय:
    • नेटवर्क रेडीनेस इंडेक्स (NRI) रिपोर्ट चार क्षेत्रों में उनके प्रदर्शन के आधार पर 131 अर्थव्यवस्थाओं के नेटवर्क रेडीनेस परिदृश्य का माप करती है:
      • प्रौद्योगिकी, लोग, शासन और प्रभाव।
    • यह रिपोर्ट वाशिंगटन डीसी में स्थित एक स्वतंत्र गैर-लाभकारी, गैर-पक्षपातपूर्ण अनुसंधान और शैक्षिक संस्थान पोर्टुलांस इंस्टीट्यूट द्वारा तैयार की गई है।
    • साल के सूचकांक में 49 उच्च आय वाली अर्थव्यवस्थाएँ, 32 ऊपरी-मध्यम आय वाली अर्थव्यवस्थाएँ, 36 निम्न-मध्यम आय वाली अर्थव्यवस्थाएँ और 14 कम आय वाली अर्थव्यवस्थाएँँ शामिल हैं।
  • वैश्विक रैंकिंग:
    • अमेरिका द्वारा सबसे अधिक नेटवर्क में तैयार किये गये हैं तथा  नीदरलैंड (चौथें से) अब पहले स्थान पर आ गया  है
    • सूचकांक में सबसे बेहतर परिणाम सिंगापुर के हैं जो कि ( दूसरें) स्थान पर है, जबकि डेनमार्क (छठवें) और फिनलैंड (सातवें) स्थान पर है।
    • शीर्ष 10 में जगह बनाने वाले अन्य पाँच देश स्वीडन (तीसरे), स्विट्ज़रलैंड ( पाँचवें ) जर्मनी (आठवें), दक्षिण कोरिया (नौवें) और नॉर्वे (दसवें) हैं।
    • शीर्ष दस देशों के आधार पर NRI पुष्टि करता है कि यूरोप, एशिया और प्रशांत के कुछ हिस्सों तथा उत्तरी अमेरिका में उन्नत अर्थव्यवस्था दुनिया के सबसे नेटवर्क बेहतर में आती हैं।
  • भारत की स्थिति:
    • भारत ने न केवल अपनी रैंकिंग में सुधार किया है, बल्कि वर्ष 2021 में 49.74 से वर्ष 2022 में 51.19 तक अपना स्कोर भी सुधारा है।
    • भारत कई संकेतकों में सबसे आगे है:
      • भारत ने "AI प्रतिभा एकाग्रता" में पहली रैंक हासिल की।
      • "देश का “मोबाइल ब्रॉडबैंड इंटरनेट ट्रैफ़िक" और "अंतर्राष्ट्रीय इंटरनेट बैंडविड्थ" में दूसरा स्थान।
      • "दूरसंचार सेवाओं में वार्षिक निवेश" और "घरेलू बाज़ार आकार" में तीसरा स्थान।
      • "सूचना तथा संचार प्रौद्योगिकी (ICT) सेवा निर्यात" में चौथा स्थान।
      • "FTTH/बिल्डिंग इंटरनेट सब्सक्रिप्शन" और "AI वैज्ञानिक प्रकाशन" में 5वीं रैंक है।
    • रिपोर्ट के अनुसार, भारत के पास अपनी आय के स्तर को देखते हुए अपेक्षा से अधिक नेटवर्क तत्परता है।
      • यूक्रेन और इंडोनेशिया के बाद निम्न-मध्यम-आय वाले देशों के समूह में भारत 36 में से तीसरे स्थान पर है।

स्रोत: पी.आई.बी.

close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2