इंदौर शाखा: IAS और MPPSC फाउंडेशन बैच-शुरुआत क्रमशः 6 मई और 13 मई   अभी कॉल करें
ध्यान दें:

डेली अपडेट्स


प्रारंभिक परीक्षा

18वीं UIC विश्व सुरक्षा काॅन्ग्रेस

  • 25 Feb 2023
  • 3 min read

रेलवे सुरक्षा बल और इंटरनेशनल यूनियन ऑफ रेलवे (UIC) द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित 18वीं UIC विश्व सुरक्षा काॅन्ग्रेस का समापन जयपुर घोषणा को अपनाने के साथ हुआ। 

जयपुर घोषणा के प्रमुख बिंदु:

  • सुरक्षित रेल नेटवर्क:  
    • इस घोषणापत्र में वर्ष 2025 तक एशिया-प्रशांत, लैटिन अमेरिका और अफ्रीकी क्षेत्रीय असेम्‍बलियों को पूरी तरह से सक्रिय कर विश्व भर में अधिक सुरक्षित रेल नेटवर्क प्रदान करने की दिशा में काम करने के लिये UIC की प्रतिबद्धता पर प्रकाश डाला गया है।
  • नई प्रौद्योगिकियों को अपनाना और RPF की भूमिका: 
    • इसमें रेलवे सुरक्षा के लिये व्यापक समाधान विकसित करने के लिये आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस 5G, IoT जैसी नई प्रौद्योगिकियों को अपनाने का आह्वान किया गया।

इंटरनेशनल यूनियन ऑफ रेलवे:

  • इंटरनेशनल यूनियन ऑफ रेलवे (Union International Des Chemins- UIC) अथवा) की स्‍थापना वर्ष 1922 में हुई थी। इसका मुख्यालय पेरिस में है। 
  • यह रेल परिवहन के अनुसंधान, विकास और प्रचार के लिये रेलवे क्षेत्र का प्रतिनिधित्त्व करने वाला विश्वव्यापी पेशेवर संघ है।

रेलवे सुरक्षा बल:

  • परिचय: 
    • भारत में रेलवे सुरक्षा के क्षेत्र में RPF प्रमुख सुरक्षा और कानून-प्रवर्तन संगठन है।
    • वर्ष 1957 में एक संघीय बल के रूप में गठित RPF रेलवे संपत्ति, यात्रियों एवं यात्रा क्षेत्रों की सुरक्षा के लिये उत्तरदायी होता है। 
    • RPF कर्मी राष्ट्र की सेवा करते हैं और टैगलाइन "सेवा संकल्प"-"सेवा करने का वादा" के साथ अपनी ड्यूटी दृढ़ता से पूरी करते हैं।
  • रेलवे सुरक्षा बल द्वारा निभाई गई भूमिका:
    • बच्चों को बचाने के लिये ऑपरेशन नन्हे फरिश्ते और तस्करों के चंगुल से महिलाओं और बच्चों को बचाने के लिये ऑपरेशन आहट (AAHT) जैसी विभिन्न पहलों के माध्यम से RPF ने भारत में यात्री सुरक्षा बढ़ाने की दिशा में असाधारण भूमिका निभाई है।

स्रोत: पी.आई.बी.

close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2