पी.सी.एस.

छत्तीसगढ़ पीसीएस प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा का पाठ्यक्रम | 01 Aug 2021 | छत्तीसगढ़

राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा

प्रश्न पत्र 1 सामान्य अध्ययन

भाग 01

सामान्य अध्ययन

भाग 02

छत्तीसगढ़ का सामान्य ज्ञान

सामान्य अभिरुचि परीक्षण


राज्य सेवा मुख्य परीक्षा

प्रश्न पत्र - 1 भाषा

(अंक 200, अवधि 3 घंटे)

भाग 01–सामान्य हिंदी

भाग 02–सामान्य अंग्रेजी

भाग 03-छत्तीसगढ़ी भाषा

प्रश्न पत्र – 2 निबंध

(अंक 200, अवधि 3 घंटे)

भाग 01: अंतर्राष्ट्रीय और राष्ट्रीय मुद्दे

उम्मीदवारों को इस भाग में अंतर्राष्ट्रीय और राष्ट्रीय मुद्दों (कारण, वर्तमान स्थिति, डेटा और समाधान सहित) पर दो निबंध लिखने होंगे। इस भाग में उम्मीदवार को 4 प्रश्न दिये जिनमें से किन्हीं 2 विषयों पर उसे लगभग 750 शब्दों में दो निबंध लिखने होंगे। इस भाग के प्रत्येक निबंध हेतु 50 अंक होंगे।

भाग II: छत्तीसगढ़ राज्य से संबंधित मुद्दे:

उम्मीदवारों को इस भाग में छत्तीसगढ़ राज्य से संबंधित मुद्दों (कारण, वर्तमान स्थिति, डेटा और समाधान सहित) पर दो निबंध लिखने होंगे। इस भाग में उम्मीदवार को 4 प्रश्न दिये जाएँगे जिनमें से किन्हीं 2 विषयों पर उसे लगभग 750 शब्दों में दो निबंध लिखने होंगे। इस भाग के प्रत्येक निबंध हेतु 50 अंक होंगे।

प्रश्न पत्र – 3 इतिहास, संविधान और लोक प्रशासन

(अंक 200, अवधि 3 घंटे)

भाग 01–भारत का इतिहास

भाग-2 संविधान एवं लोक प्रशासन:

भाग-3 छत्तीसगढ़ का इतिहास:

प्रश्न पत्र – 4 विज्ञान, प्रौद्योगिकी और पर्यावरण

(अंक 200, अवधि 3 घंटे)

भाग-1: सामान्य विज्ञान

रसायन विज्ञान:

भौतिक विज्ञान:

जीव विज्ञान

भाग-2: योग्यता परीक्षण, तार्किक योग्यता एवं बुद्धिमता परीक्षण

भाग 3: एप्लाइड एवं व्यावहारिक विज्ञान

प्रश्न पत्र - 05 अर्थशास्त्र और भूगोल

(अंक 200, अवधि 3 घंटे)

भाग 01 - भारत और छत्तीसगढ़ का अर्थशास्त्र

भाग 02 – भारत का भूगोल

भाग 03 - छत्तीसगढ़ का भूगोल

प्रश्न पत्र - 06 दर्शनशास्त्र और समाजशास्त्र

(अंक 200, अवधि 3 घंटे)

भाग-1: दर्शनशास्‍त्र

भाग-2: समाजशास्‍त्र–(50 अंक )

भाग-3: छत्तीसगढ़ का सामाजिक परिदृश्‍य

मुख्य परीक्षा पाठ्यक्रम Paper 07

प्रश्न पत्र - 07 कल्याणकारी, विकासात्मक कार्यक्रम एवं कानून

(अंक 200, अवधि 3 घंटे)

भाग-1: कल्याणकारी, विकासात्मक कार्यक्रम एवं कानून

भाग-2: अन्‍तर्राष्‍ट्रीय एवं राष्ट्रीय खेल, घटनाएँ एवं संगठन

संयुक्‍त राष्ट्र एवं उसके सहयोगी संगठन, अंतर्राष्‍ट्रीय मुद्रा कोष, विश्‍व बैंक एवं एशियाई बैंक, सार्क, ब्रिक्स अन्य द्विपक्षीय एवं क्षेत्रीय समूह, विश्‍व व्यापार संगठन एवं भारत पर इसके प्रभाव, राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्‍ट्रीय खेल एवं प्रतियोगिताएँ।

भाग-3: अंतर्राष्‍ट्रीय एवं राष्ट्रीय शैक्षणिक संस्थाएँ एवं मानव विकास में उनका योगदान

कुशल मानव संसाधन की उपलब्‍धता, भारत में मानव संसाधन की नियोजिता एवं उत्पादकता, रोज़गार के विभिन्‍न चलन (ट्रेंडस) मानव संसाधन विकास में विभिन्‍न संस्थाओं परिषदें, उच्च शिक्षा और तकनीकी शिक्षा, व्यावसायिक शिक्षा