दृष्टि ज्यूडिशियरी का पहला फाउंडेशन बैच 11 मार्च से शुरू अभी रजिस्टर करें
ध्यान दें:

विश्व का मैप (II) : फरवरी, 2019

मैप आधारित प्रश्न
  • 1. भूमध्यसागरीय तट पर दक्षिणी यूरोप में स्थित इस शहर-राज्य की पहचान कीजिये, जिसके राजकुमार अपनी पहली आधिकारिक यात्रा पर भारत आए।

    उत्तर : मोनाको के राजकुमार अल्बर्ट द्वितीय (Albert II) अपनी पहली आधिकारिक यात्रा पर भारत आए। वर्तमान में राजकुमार अल्बर्ट द्वितीय के उच्चाधिकार में कार्यकारी शक्ति निहित है। 21 सितंबर, 2007 को भारत और मोनाको की रियासत ने आधिकारिक रूप से राजनयिक संबंध स्थापित किये। हालाँकि, भारत और मोनाको की रियासत के बीच दूतावास संबंध (Consular Relations) 30 सितंबर, 1954 से मौजूद है। मोनाको वेटिकन सिटी के बाद दुनिया का दूसरा सबसे छोटा देश है।

  • 2. इस्लामी क्रांति की 40वीं वर्षगांठ मना रहे देश की पहचान कीजिये।

    उत्तर : ईरान 1979 में हुई इस्लामी क्रांति की 40वीं वर्षगांठ मना रहा है। शाह शासन को उखाड़ फेंकने वाली इस्लामी क्रांति के बाद ईरान इस्लामिक गणराज्य बन गया।

  • 3. उस देश की पहचान कीजिये जिसके प्रधानमंत्री प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन 2019 के मुख्य अतिथि थे।

    उत्तर : मॉरीशस के प्रधानमंत्री श्री प्रविंद जुगनाथ प्रवासी भारतीय दिवस (Pravasi Bharatiya Diwas-PBD) सम्मेलन के मुख्य अतिथि थे। नॉर्वे के सांसद इसके विशेष अतिथि थे, जबकि न्यूज़ीलैंड के सांसद प्रवासी भारतीय दिवस (PBD) के 15वें संस्करण में गेस्ट ऑफ ऑनर थे।

  • 4. उस विदेशी शहर की पहचान कीजिये जिसने हाल ही में हिंदी को अपनी आधिकारिक भाषाओं की सूची में शामिल किया है।

    उत्तर : संयुक्त अरब अमीरात (UAE) की राजधानी अबू धाबी ने हिंदी को न्यायालयों में इस्तेमाल की जाने वाली तीसरी आधिकारिक भाषा के रूप में शामिल किया है। न्याय तक सबकी पहुँच सुनिश्चित करने के लिये अरबी और अंग्रेज़ी भाषा के साथ हिंदी को भी स्थान दिया गया है। UAE में रहने वाले भारतीयों की संख्या तकरीबन 2.6 मिलियन है जो वहाँ की कुल जनसंख्या का 30 प्रतिशत है।

  • 5. आवर्त सारणी बनाने वाला रसायनज्ञ किस देश से संबंधित है?

    उत्तर : 17 फरवरी 1869 को रूसी रसायनज्ञ दिमित्री इवानोविच मेंडेलीव ने ‘तत्त्वों की आवर्त सारणी’ तैयार की। 17 फरवरी 2019 में इसे 150 साल पूरे हो रहे है। इसलिये संयुक्त राष्ट्र जनरल असेंबली और यूनेस्को ने 2019 को ‘रासायनिक तत्त्वों की आवर्त सारणी (IYPT2019) के अंतर्राष्ट्रीय वर्ष’ के रूप में मनाने का निर्णय लिया है।

close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2