Study Material | Test Series
Drishti


 दृष्टि का नया टेस्ट सीरीज़ सेंटर  View Details

सेमिनार: अंग्रेज़ी सीखने का अवसर (23 सितंबर: दोपहर 3 बजे)
स्टडी मैटीरियल

  • ‘दृष्टि: द विज़न’ के कक्षा कार्यक्रम का एक महत्त्वपूर्ण हिस्सा ‘पाठ्य-सामग्री’ से संबंधित है।

  • हमारे कक्षा कार्यक्रम का मूल ध्येय यह है कि हमारे संस्थान में अध्ययन करने वाले विद्यार्थी अपनी अधिक से अधिक ऊर्जा पढ़ाई करने और उत्तर लेख अभ्यास में लगाएँ न कि अध्ययन सामग्री को जुटाने में । इसलिये विद्यार्थियों के लिये जितनी अध्ययन सामग्री आवश्यक होती है, पूरी की पूरी संस्थान की तरफ से उपलब्ध कराई जाती है। इससे उन्हें पुस्तकों व अन्य स्रोतों पर निर्भर नहीं रहना पड़ता।

  • गौरतलब है कि अध्ययन सामग्री के निर्माण से संबंधित हमारे लेखक व संपादक समूह में 150 से अधिक  पूर्णकालिक सदस्य हैं। इन सभी को सिविल सेवा परीक्षा का व्यक्तिगत तथा लंबा अनुभव प्राप्त है।

  • हमारी शोध टीम (Research team) के सदस्य नई अध्ययन सामग्री के निर्माण के साथ-साथ इस बात का भी ध्यान रखते हैं कि पहले से मौजूद सामग्री को समय के साथ ‘अपडेट’ करते रहें।  

  • सिविल सेवा परीक्षा में सामान्य अध्ययन की महत्त्वपूर्ण भूमिका को देखते हुए समसामयिक घटनाओं को अपडेट करते रहना अनिवार्य है। यही वह क्षेत्र है जहाँ हिंदी माध्यम के उम्मीदवार अंग्रेज़ी माध्यम के उम्मीदवारों की तुलना में पिछड़ जाते हैं। विद्यार्थियों की इस समस्या को दृष्टि संस्थान ने एक चुनौती की तरह लिया है। इस चुनौती का सामना हम निम्नलिखित 4 स्तरों पर करते हैं-

    1. हम अपने विद्यार्थियों के लिये ‘दृष्टि करेंट अफेयर्स टुडे’ नाम से एक मासिक पत्रिका प्रकाशित करते हैं। सिविल सेवा एवं विभिन्न राज्यों की पी.सी.एस. परीक्षाओं (प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा तथा साक्षात्कार) के लिये यह एक संपूर्ण पत्रिका है।
    2. हिंदी के विभिन्न अखबारों और पत्रिकाओं में कई अच्छे लेख छपते हैं जिन्हें पढ़ने से राष्ट्रीय, अंतर्राष्ट्रीय एवं सामाजिक, आर्थिक, राजनैतिक तथा अन्य विषयों पर व्यापक और स्वस्थ दृष्टिकोण विकसित होता है। लेकिन विद्यार्थियों के पास इतना समय नहीं होता कि वे सभी अखबारों को  पढ़ सकें और यह चुनाव कर सकें कि उन्हें कौन-से लेख पढ़ने चाहियें और कौन से नहीं? हम प्रत्येक पंद्रह दिन पर (महीने में 2 बार) विभिन्न हिंदी अखबारों और पत्रिकाओं के स्तरीय लेखों का संकलन करते हैं और सभी विद्यार्थियों को उपलब्ध कराते हैं। लेखों के साथ यह सूचना भी अंकित होती है कि इनसे किस-किस तरह के प्रश्न पूछे जा सकते हैं? सीधी भाषा में कहें तो हम अपने विद्यार्थियों से यह अपेक्षा भी नहीं रखते कि वे नियमित तौर पर अख़बार पढ़ें। यह कार्य भी उनके लिये हमारे अकादमिक समूह के सदस्य करते हैं और उन्हें अखबारों का ‘सार’ उपलब्ध करा देते हैं। 
    3. हिंदी माध्यम के विद्यार्थी आमतौर पर अंग्रेज़ी के प्रतिष्ठित अखबारों (जैसे ‘द हिन्दू’, ‘इकोनमिक टाइम्स’, ‘इंडियन एक्सप्रेस’, ‘टाइम्स ऑफ इंडिया’ आदि) और पत्रिकाओं (जैसे ‘फ्रंटलाइन’, ‘इकनॉमिक एण्ड पॉलिटिकल वीकली’, ‘वर्ल्ड फोकस’ इत्यादि) में प्रकाशित होने वाले अच्छे लेखों से वंचित रह जाते हैं, जिसका नुकसान हिन्दी माध्यम के उम्मीदवारों के सामान्य अध्ययन के अंकों में साफ झलकता है। इस अंतराल को भरने के लिये हम सभी महत्त्वपूर्ण अंग्रेज़ी अखबारों और पत्रिकाओं के अच्छे लेखों का हिंदी में सहज अनुवाद कराते हैं और महीने में लगभग 25-30 महत्त्वपूर्ण लेख अपने विद्यार्थियों को उपलब्ध कराते हैं। 
    4. दृष्टि संस्थान की वेबसाइट
    www.drishtiias.com प्रतिदिन अंग्रेज़ी के विभिन्न अखबारों और pib की वेबसाइट में रोज़ाना प्रकाशित होने वाले महत्त्वपूर्ण समाचारों और लेखों का हिन्दी भाषा में सहज अनुवादित विश्लेषण प्रस्तुत किया जाता है| इनके अलावा, करेंट अफेयर्स के 5 प्रश्न रोज़ाना व्याख्यासहित उत्तर के साथ दिये जाते हैं| 

  • इसके अतिरिक्त, हम अपने विद्यार्थियों को इंडिया इयर बुक, बजट, आर्थिक सर्वेक्षण आदि के सार-संग्रह के साथ- साथ समसामयिक घटनाओं की वार्षिकी भी उपलब्ध कराते हैं जिससे दृष्टि संस्थान के किसी भी विद्यार्थी को किसी भी प्रकार की आवश्यक अध्ययन सामग्री के लिये कहीं अन्यत्र नहीं जाना पड़े। 


Helpline Number : 87501 87501
To Subscribe Newsletter and Get Updates.