Study Material | Prelims Test Series
Drishti


 सिविल सेवा परीक्षा साक्षात्कार कार्यक्रम-2018  View Details

[1]

योगाचार या विज्ञानवाद के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजियेः
1. शून्यवाद के समान यह भी बाह्य वस्तु की सत्ता को अस्वीकार करता है, किंतु चित्त की सत्ता की मानता है।
2. यह चित्त को विज्ञान मानता है।
3. चित्त की प्रवृत्ति ही पुनर्जन्म का कारण है और योग एवं आचार के माध्यम से चित्त की निवृत्ति संभव है। इसलिये इसे योगाचार भी कहते हैं।
4. इसके प्रमुख विद्वान असंग, वसुबंधु, धर्मकीर्ति दिंगनाथ आदि हैं।
उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सत्य है/हैं?

A)

केवल 1 और 2

B)

केवल 2

C)

केवल 1, 3 और 4

D)

1, 2, 3 और 4

Show Answer +
[2]

बौद्ध धर्म के प्रमुख पंथों के संदर्भ में निम्नलिखित युग्मों में से कौन-सा सही नहीं है?

A)

महासंघिक मानते थे कि प्रत्येक व्यक्ति में बुद्धत्व प्राप्ति की स्वाभाविक शक्ति है। इसका केन्द्र मगध था। महासंघिक ने ही महायान के उदय का मार्ग प्रशस्त किया।

B)

स्थविरवादी मानते थे कि बुद्धत्व सबकों प्राप्त नहीं हो सकता, इसकी मुख्य पीठ कश्मीर में थी।

C)

 वैभाषिक अनुयायियों का मानना था कि प्रत्येक वस्तु का निर्माण परमाणुओं से जुड़ा है, अतः वस्तु का अस्तित्व है, जिसका ज्ञान प्रत्यक्ष सम्भव है।

D)

सौतांत्रिक भी वैभाषिक के समान चित्त तथा बाह्य जगत की सत्ता को स्वीकार करते हैं और इस बात पर सहमत हैं कि प्रत्यक्ष ज्ञान सम्भव है।

Show Answer +
[3]

निम्नलिखित बौद्ध पंथों में से किसे ‘बोधिसत्वयान’ भी कहा जाता हैः

A)

हीनयान

B)

महायान

C)

वज्रयान

D)

सौतांत्रिक

Show Answer +
[4]

जैन सम्मेलनों के विषय में कौन-सा कथन असत्य है?

A)

प्रथम सम्मेलन-पाटलिपुत्र में, चतुर्थ सदी में, अध्यक्ष-स्थूलभद्र थे।

B)

द्वितीय सम्मेलन- कर्नाटक, चौथी सदी में, इसकी अध्यक्षता भद्रबाहु ने की।

C)

प्रथम सम्मलेन में जैन धर्म का विभाजन हो गया।

D)

जैन सम्मेलन आगमों को सुव्यवस्थित करने के लिये आयोजित किये गए।

Show Answer +
[5]

सूची-I को सूची-II के साथ सुमेलित कीजिये और नीचे दिये गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर का चुनाव कीजिये।

सूची-I
(बौद्ध दार्शनिक)
सूची-II
(संबंधित कार्य)
A. अश्वघोष 1. बुद्धचरित
B. असंग 2. सर्वास्तिवाद
C. धर्मकीर्ति 3. भाषा वैज्ञानिक
D. बुद्धघोष 4. विशुद्ध मग्ग

कूटः 

     A    B      C     D

A)

1 3 2 4

B)

4 3 2 1

C)

1 2 3 4

D)

3 2 1 4

Show Answer +
[6]

निम्नलिखित कथनों में कौन-सा कथन सत्य है?

A)

बिंबिसार, अजातशत्रु, प्रसेनजित, प्रद्योत आदि ने बौद्ध धर्म को संरक्षण दिया।

B)

बौद्ध विद्वान अश्वघोष, वसुमित्र और पार्श्व कनिष्क के समकालीन थे।

C)

चीनी यात्री फाह्यान, ह्वेनसांग, शुंगयून और इत्सिंग बौद्ध धर्म से प्रभावित थे।

D)

पाल शासक बौद्ध धर्म के अंतिम महान संरक्षक थे। इन्हीं के समय तंत्रवाद का विकास हुआ। देवपाल ने विक्रमशिला तथा धर्मपाल ने नालंदा विश्वविद्यालय को संरक्षण प्रदान किया।

Show Answer +
[7]

महायान बौद्ध में बोधिसत्व अवलोकितेश्वर को और किस नाम से जाना जाता है?

A)

वज्रपाणि

B)

मंजुश्री

C)

पद्मपाणि

D)

मैत्रेय

Show Answer +
[8]

नागार्जुन के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों में कौन-सा कथन असत्य है?

A)

ये चन्द्रगुप्त मौर्य के दरबारी थे।

B)

इनकी तुलना मार्टिन लूथर से की जाती है।

C)

ह््वेनसांग ने उन्हें संसार की चार मार्गदर्शक शक्तियों में से एक कहा है।

D)

इन्हें ‘भारत का आइंस्टीन भी’ कहा जाता है।

Show Answer +
[9]

कार्ले का विशालतम स्तूप बौद्ध धर्म के किस सम्प्रदाय का प्रतिनिधित्व करता है?

A)

स्थाविर

B)

हीनयान

C)

महायान

D)

इनमें से कोई नहीं।

Show Answer +
[10]

निम्नलिखित में से कौन-सा/सी विशेषता/विशेषताएँ बौद्ध धर्म और जैन धर्म दोनों में समान रूप से विद्यमान थी/थीं?
1. तप और भोग की अति का परिहार
2. प्राणियों की हिंसा का निषेध
3. वेद-प्रामाण्य के प्रति अनास्था
4. कर्मकांडों की फलवत्ता का निषेध
उपर्युक्त में से कौन-सा/से कथन सही है/हैं?

A)

केवल 1

B)

केवल 1 और 2

C)

केवल 2, 3 और 4

D)

1, 2, 3 और 4 

Show Answer +

Helpline Number : 87501 87501
To Subscribe Newsletter and Get Updates.