Study Material | Test Series
Drishti


 सिविल सेवा मुख्य परीक्षा - 2018 प्रश्नपत्र   Download

बेसिक इंग्लिश का दूसरा सत्र (कक्षा प्रारंभ : 22 अक्तूबर, शाम 3:30 से 5:30)

प्रीलिम्स फैक्ट्स : 10 अक्टूबर, 2018 
Oct 10, 2018

⇒ अंतर्राष्ट्रीय सामाजिक सुरक्षा संगठन श्रेष्ठ कार्यप्रणाली पुरस्कार
⇒ मेडवाच
⇒ राष्‍ट्रीय सुरक्षा परिषद की सहायता हेतु SPG का गठन

अंतर्राष्ट्रीय सामाजिक सुरक्षा संगठन श्रेष्ठ कार्यप्रणाली पुरस्कार

ESIC-ISSA

कर्मचारी राज्य बीमा निगम (Employees’ State Insurance Corporation - ESIC) ने मलेशिया की राजधानी कुआलालम्पुर में एशिया और प्रशांत क्षेत्र के लिये क्षेत्रीय सामाजिक सुरक्षा फोरम में कवरेज विस्तार के प्रशासनिक समाधान के लिये आईएसएसए (International Social Security Association-ISSA) श्रेष्ठ कार्यप्रणाली पुरस्कार जीत लिया है।

  • यह पुरस्कार ESIC द्वारा कवरेज विस्तार – स्प्री (Scheme for Promoting Registration of Employers and Employees- SPREE), नए क्रियान्वित क्षेत्रों में 24 महीनों के लिये अंशदान दर में कमी तथा ESIC अधिनियम के अंतर्गत कवरेज के लिये वेतन सीमा बढ़ाने जैसे उठाए गए कदमों को मान्यता देता है।
  • रीजनल सोशल सिक्यूरिटी फोरम फॉर एशिया (Regional Social Security Forum for Asia) एशिया-प्रशांत क्षेत्र के लिये त्रैवार्षिक मंच (triennial Forum) है। यह क्षेत्र का महत्त्वपूर्ण सामाजिक सुरक्षा आयोजन है।
  • ISSA एशिया तथा प्रशांत क्षेत्र के लिये श्रेष्ठ कार्यप्रणाली पुरस्कार के आवेदन आमंत्रित करता है। फोरम ISSA के सदस्य संस्थानों के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों तथा प्रबंधकों को प्रमुख सामाजिक सुरक्षा चुनौतियों पर विचार-विमर्श करने और अपने अनुभवों को साझा करने का अऩूठा अवसर प्रदान करता है।

ISSA

  • यह सामाजिक सुरक्षा संगठनों, सरकारों तथा सामाजिक सुरक्षा विभागों के लिये प्रधान अंतर्राष्ट्रीय संगठन है। इसकी स्थापना 1927 में अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन (International Labour Organization - ILO), जिनेवा के तत्त्वावधान में की गई थी।
  • इसका उद्देश्य पेशेवर दिशा-निर्देशों, विशेष ज्ञान तथा सेवाओं के माध्यम से सामाजिक सुरक्षा प्रशासन में श्रेष्ठता को बढ़ावा देना और अपने सदस्यों को गतिशील सामाजिक सुरक्षा प्रणाली विकसित करने में सहायता देना है।
  • ESI कॉरपोरेशन, नई दिल्ली में दक्षिण अफ्रीका के लिये ISSA के संपर्क कार्यालय की मेज़बानी करता है। संपर्क कार्यालय सामाजिक सुरक्षा से संबंधित ISSA की गतिविधियों पर सदस्य देशों तथा भूटान, नेपाल, बांग्लादेश, श्रीलंका और ईरान में सामाजिक सुरक्षा संस्थानों के साथ समन्वय का काम करता है।

मेडवाच

Medwatch

  • भारतीय वायुसेना ने अपनी 86वीं वर्षगाँठ पर ‘डिजिटल इंडिया, आयुष्‍मान भारत और‍मिशन इन्‍द्रधनुष’ के संबंध में ‘मेडवाच’ नामक एक मोबाइल हेल्‍थ एप की शुरुआत की है।
  • स्वदेश निर्मित इस एप को बहुत कम लागत पर सूचना प्रौद्योगिकी निदेशालय द्वारा विकसित किया गया है। ‘मेडवाच’ तीनों सशस्‍त्र सेनाओं में सबसे पहला मोबाइल हेल्‍थ एप है।
  • ‘मेडवाच’ से वायुसेनाके जवान और देश के सभी नागरिकों को स्‍वास्‍थ्‍य के बारे में सही-सही एवं वैज्ञानिक तथा विश्‍वस्‍त विवरण उपलब्‍ध होगा।
  • इसमें मूलभूत प्राथमिक उपचार, स्‍वास्‍थ्‍य से जुड़े मुद्दे तथा पोषक आहार पर आधारित विवरण, समयानुसार स्‍वास्‍थ्‍य समीक्षा, रोग प्रतिरक्षण और स्‍वास्‍थ्‍य रिकॉर्ड कार्ड, बीएमआई कैलकुलेटर, हेल्‍पलाइन नंबरों और वेब लिंकों जैसे उपयोगी माध्‍यम शामिल हैं।  

राष्‍ट्रीय सुरक्षा परिषद की सहायता हेतु SPG का गठन

SPG

हाल ही में केंद्र सरकार ने राष्‍ट्रीय सुरक्षा और सामरिक हितों के मामले में प्रधानमंत्री की सलाहकारी राष्‍ट्रीय सुरक्षा परिषद की सहायता हेतु एक रणनीतिक नीति समूह (Strategic Policy Group- SPG) का गठन किया है।

  • SPG राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद की सहायता के साथ ही देश के सुरक्षा मामलों की दीर्घकालिक रणनीतिक समीक्षा समेत दूसरे कार्य करेगा।
  • इसकी अध्‍यक्षता राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल करेंगे। नीति आयोग के उपाध्‍यक्ष, मंत्रिमंडल के सचिव, तीनों सेनाओं के अध्‍यक्ष, रिज़र्व बैंक के गवर्नर, विदेश सचिव, गृह सचिव, वित्‍त सचिव और रक्षा सचिव इसके सदस्‍य होंगे। इनके अलावा रक्षा उत्‍पादन और आपूर्ति सचिव, रक्षा मंत्री के वैज्ञानिक सलाहकार और मंत्रिमंडल के सचिव भी इस समूह का हिस्सा होंगे।
  • इसके अतिरिक्त राजस्व विभाग के सचिव, परमाणु ऊर्जा विभाग के सचिव, अंतरिक्ष विभाग के सचिव, खुफिया ब्यूरो के निदेशक और राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद सचिवालय के सचिव भी इस समूह के सदस्य होंगे।

SPG क्या है?

  • SPG का गठन अप्रैल 1999 में किया गया था। उस समय सरकार में कैबिनेट सेक्रेटरी को इसका अध्यक्ष नियुक्त किया गया था, परंतु बाद में कैबिनेट सेक्रेटरी की बजाय राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार को इसका अध्यक्ष बनाए जाने का निर्णय लिया गया।
  • SPG का गठन बाहरी, आंतरिक और आर्थिक सुरक्षा के मामलों में राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद (एनएससी) की मदद के लिये किया गया था। इसका मुख्य कार्य कैबिनेट सचिव के फैसलों पर अमल को लेकर विभिन्न मंत्रालयों और विभागों के बीच समन्वय स्थापित करना है।
  • केंद्र सरकार ने एसपीजी के सदस्यों की संख्या 16 से बढ़ाकर 18 करने का भी फैसला किया है। इसमें 2 अतिरिक्त नए सदस्यों के तौर पर कैबिनेट सेक्रेटरी और नीति आयोग के चेयरमैन को शामिल किया गया है।

स्रोत: पी.आई.बी. एवं द हिंदू


Helpline Number : 87501 87501
To Subscribe Newsletter and Get Updates.