हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

भारत का मैप (I): सितंबर 2020

मैप आधारित प्रश्न
  • 1. हाल ही में भारतीय प्रधानमंत्री द्वारा 'पत्रिका गेट’ का उद्घाटन किया गया, यह किस भारतीय शहर में स्थित है?

    उत्तर : जयपुर (राजस्थान) हाल ही में प्रधानमंत्री द्वारा जयपुर (राजस्थान) में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 'पत्रिका गेट' (Patrika Gate) का उद्घाटन किया गया। यह 'जयपुर विकास प्राधिकरण' (Jaipur Development Authority- JDA) के 'मिशन अनुपम' (Mission Anupam) के तहत एक स्मारक के रूप में बनाया गया एक प्रतिष्ठित द्वार है। यूनेस्को द्वारा 'विश्व धरोहर स्थल' (World Heritage Site) के रूप में जयपुर को मान्यता दी गई है। 'पत्रिका गेट' का निर्माण इसी को ध्यान में रखते हुए किया गया था।

  • 2. उस स्थान की पहचान करें जहाँ रेनाटी चोल युग समय के शिलालेख की खोज की गई है?

    उत्तर : कडप्पा (आंध्र प्रदेश) हाल ही में आंध्रप्रदेश के कुडप्पा (Kadapa) ज़िले में खुदाई के दौरान रेनाटी चोल युग (Renati Chola Era) के एक दुर्लभ शिलालेख (Rare Inscription) की प्राप्ति हुई है। यह दुर्लभ शिलालेख डोलोमाइट चट्टान का एक टुकड़ा है, जिस पर तेलुगू भाषा में उत्कीर्ण किया गया है। यह शिलालेख 8वीं शताब्दी के आसपास का बताया जाता है जब यह क्षेत्र (कडप्पा ज़िले के आसपास का क्षेत्र ) रेनाडू (Renadu) के चोल महाराजा के अधीन था।

  • 3. 'पुलिकली/पुलिक्कली' भारत के किस क्षेत्र की प्रसिद्ध लोक कला है?

    उत्तर : त्रिशूर (केरल) पुलिक्कली (Pulikkali) या टाइगर डांस (Tiger Dance) केरल के त्रिशूर (Thrissur) में मनाये जाने वाले ओणम (Onam) उत्सव का एक अनिवार्य हिस्सा है। पुलिक्कली (Pulikkali) में कुछ विशेष लोग अपने शरीर पर चमकीले पीले एवं काले रंग से शेर की आकृति को चित्रित करके ड्रम एवं तीव्र म्यूज़िक के साथ शहर के चारों ओर घूमते हैं। शक्थान थम्पूरन (Shakthan Thampuran) ने दो सदी पहले एक ‘स्ट्रीट आर्ट’ (Street Art) के रूप में पुलिक्कली से लोगों को परिचित कराया था। राम वर्मा IX जिन्हें शक्थान थम्पूरन के रूप में जाना जाता है, कोचीन साम्राज्य के शासक थे।

  • 4. भारत में उस क्षेत्र की पहचान करें जहाँ रोगन आर्ट का अभ्यास किया जाता है?

    उत्तर : कच्छ (गुजरात) रोगन आर्ट एक प्राचीन कपड़ा कला है जिसकी उत्पत्ति फारस में हुई थी जो लगभग 300 वर्ष पहले भारत में गुजरात के कच्छ में प्रचलित हुई। ‘रोगन’ फारसी मूल का एक शब्द है जिसका अर्थ ‘तेल’ होता है। ‘रोगन आर्ट’ कपड़े पर पेंटिंग करने की तकनीक है जिसमें अरंडी के तेल और प्राकृतिक रंगों से बने एक समृद्ध, चमकीले रंग का उपयोग किया जाता है। परंपरागत रूप से इसका उपयोग क्षेत्रीय जनजातियों में दुल्हन के कपड़ों को सुशोभित करने के लिये किया जाता था। इस कला का प्रयोग घाघरा, ओढ़नी एवं बेडशीट के किनारों को सजाने के लिये किया जाता है।

  • 5 भारत में उस राज्य की पहचान करें जो हाल ही में सोनमुरा-डौकंडी अंतर्देशीय जलमार्ग के माध्यम से बांग्लादेश से जुड़ा है?

    उत्तर : त्रिपुरा गोमति नदी पर सोनमुरा-डौकंडी अंतर्देशीय जलमार्ग को मई 2020 में भारत-बंगला प्रोटोकॉल (IBP) मार्गों की सूची में शामिल किया गया था। यह त्रिपुरा को बांग्लादेश के माध्यम से भारत के राष्ट्रीय जलमार्ग से जोड़ता है। डौकंडी बांग्लादेश में है, जबकि सोनमुरा भारत के त्रिपुरा में है।

एसएमएस अलर्ट
 

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

प्रोग्रेस सूची देखने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

आर्टिकल्स को बुकमार्क करने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close