हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:
झारखण्ड संयुक्त असैनिक सेवा मुख्य प्रतियोगिता परीक्षा 2016 -परीक्षाफलछत्तीसगढ़ पीसीएस प्रश्नपत्र 2019छत्तीसगढ़ पी.सी.एस. (प्रारंभिक) परीक्षा, 2019 (महत्त्वपूर्ण अध्ययन सामग्री).छत्तीसगढ़ पी.सी.एस. प्रारंभिक परीक्षा – 2019 सामान्य अध्ययन – I (मॉडल पेपर )
हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स (Hindi Literature: Pendrive Course)
मध्य प्रदेश पी.सी.एस. (प्रारंभिक) परीक्षा , 2019 (महत्वपूर्ण अध्ययन सामग्री)मध्य प्रदेश पी.सी.एस. परीक्षा मॉडल पेपर.Download : उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (प्रवर) प्रारंभिक परीक्षा 2019 - प्रश्नपत्र & उत्तर कुंजीअब आप हमसे Telegram पर भी जुड़ सकते हैं !यू.पी.पी.सी.एस. परीक्षा 2017 चयनित उम्मीदवार.UPSC CSE 2020 : प्रारंभिक परीक्षा टेस्ट सीरीज़

भारत का मैप (II): अप्रैल 2020

Solve Below Questions
  • 1. उन जल निकायों को चिह्नित कीजिये जिन पर कालेश्वरम बहुउद्देश्यीय सिंचाई परियोजना शुरू की गई है?

    उत्तर : प्राणहिता तथा गोदावरी नदी (तेलंगाना)। कालेश्वरम लिफ्ट सिंचाई योजना तेलंगाना के भूपालपल्ली ज़िले में गोदावरी नदी पर शुरू की गई एक बहुउद्देश्यीय सिंचाई परियोजना है। यह परियोजना प्राणहिता और गोदावरी नदी के संगम स्थल पर शुरू की गई है। तेलंगाना के गठन से पूर्व अर्थात् मूल रूप से आंध्र प्रदेश में इसे प्राणहिता-चेवेल्ला परियोजना के नाम से जाना जाता था। वर्ष 2014 में तेलंगाना सरकार ने कालेश्वरम परियोजना के रूप में इसे पुनः अभिकल्पित, विस्तारित और नामांकित किया।

  • 2. उस बाघ अभयारण्य की पहचान कीजिये जो सतपुड़ा-मैकल पर्वतश्रेणी में स्थित है तथा दो राज्यों में फैला हुआ है?

    उत्तर : पेंच बाघ अभयारण्य, महाराष्ट्र तथा मध्य प्रदेश। सिवनी (मध्य प्रदेश) में स्थित पेंच बाघ अभयारण्य/टाइगर रिज़र्व, मध्य पठारी क्षेत्र की सतपुड़ा-मैकाल पर्वत शृंखला के प्रमुख संरक्षित क्षेत्रों में से एक है। वर्ष 1992-93 में इसे प्रोजेक्ट टाइगर के अंतर्गत शामिल किया गया था। इसका कुछ वन क्षेत्र कान्हा टाइगर रिज़र्व और पेंच टाइगर रिज़र्व (महाराष्ट्र) का संस्पर्शी क्षेत्र है। पेंच टाइगर रिजर्व तथा इसके आस-पास का क्षेत्र रूडयार्ड किपलिंग की प्रसिद्ध पुस्तक "द जंगल बुक" का वास्तविक कथा क्षेत्र है।

  • 3. उस राज्य की पहचान कीजिये जहाँ कौंडिन्य वन्यजीव अभयारण्य अवस्थित है:

    उत्तर : आंध्र प्रदेश। कौंडिन्य वन्यजीव अभयारण्य एशियाई हाथियों की आबादी वाला आंध्र प्रदेश का एकमात्र अभयारण्य है। इस अभयारण्य में कंटीली झाड़ियों के साथ उष्णकटिबंधीय शुष्क पर्णपाती वन (Dry Deciduous Forests) पाए जाते हैं। एशियाई हाथी के अलावा यह पाए जाने वाले अन्य जानवर है: यलो थ्रोटेड बुलबुल (Yellow-throated Bulbul), स्लोथ बियर, पैंथर, चीतल, चौसिंगा, सांभर, साही (Porcupine), जंगली सुअर (Wild Boar), जंगली बिल्ली, सियार, बन कुक्कुट (Jungle Fowl), स्टार कछुआ तथा लोरिस।

  • 4. गालो जनजाति द्वारा ‘अर्र-रिनाम तथा अली-तरणम’ तथा अनुष्ठानों का आयोजन किस राज्य में किया जाता है?

    उत्तर : अरुणाचल प्रदेश। गालो जनजाति अरुणाचल प्रदेश की 26 प्रमुख जनजातियों में से एक है जो पश्चिमी सियांग ज़िले में निवास करती है। गालो जनजाति में ‘अर्र-रिनाम’ (Arr-Rinam) लॉकडाउन के समान होता है तथा महामारी के प्रकोप से बचने के लिये स्थानीय लोगों की सर्वसम्मति से इसे लागू किया जाता है। अली-तरणम में अली (Ali) का अर्थ ‘महामारी’ जबकि तरणम (Ternam) का अर्थ है ‘पहले से ही रोकना’। अली-तरणम अनुष्ठान का पालन महामारी से बचने के लिये किया जाता है। इसके अलावा ‘मोपिन’ (Mopin) गालो जनजाति द्वारा मनाया जाने वाला एक प्रमुख त्योहार है जो गाँवों की समृद्धि के लिये मनाया जाता है। गालो जनजाति के लोगों पोपिर नृत्य करते हैं।

  • 5. उस बायोस्फीयर रिज़र्व को चिह्नित कीजिये जो यूनेस्को द्वारा अभिहित वर्ल्ड नेटवर्क ऑफ़ बायोस्फीयर रिज़र्व में शामिल किया जाने वाला भारत का पहला बायोस्फीयर रिज़र्व था:

    उत्तर : नीलगिरी बायोस्फीयर रिज़र्व। नीलगिरि बायोस्फीयर रिज़र्व यूनेस्को द्वारा अभिहित वर्ल्ड नेटवर्क ऑफ बायोस्फीयर रिज़र्व (2012 में नामित) में शामिल होने वाला भरत का पहला बायोस्फीयर रिज़र्व था। रिज़र्व के अंतर्गत आने वाले कुछ वन्यजीव उद्यान हैं: वायनाड वन्यजीव अभयारण्य, मुदुमलाई वन्यजीव अभयारण्य, बांदीपुर राष्ट्रीय उद्यान, नागरहोल राष्ट्रीय उद्यान, मुकुर्थी राष्ट्रीय उद्यान और साइलेंट वैली।

एसएमएस अलर्ट
 

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

प्रोग्रेस सूची देखने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

आर्टिकल्स को बुकमार्क करने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close