Study Material | Mains Test Series
ध्यान दें:

भारत का मैप (IV): जुलाई, 2019

Solve Below Questions
  • 1. उस स्थान की पहचान कीजिये जो यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर स्थल घोषित किया जाने वाला भारत का दूसरा शहर है:

    उत्तर : जयपुर, राजस्थान। यूनेस्को ने गुलाबी शहर, जयपुर (राजस्थान), को विश्व धरोहर स्थल घोषित किया है। इस शहर को अपने नगर नियोजन और वास्तुकला में एक अनुकरणीय विकास जैसे मूल्यों के लिये नामित किया गया था। जो उत्तर मध्य काल में एक समामेलन और विचारों के महत्त्वपूर्ण आदान-प्रदान को प्रदर्शित करता है।

  • 2. उस राज्य की पहचान कीजिये जहाँ भारत का पहला हाथी पुनर्वास केंद्र स्थापित किया जाना है?

    उत्तर : कोट्टूर, केरल। भारत का पहला हाथी पुनर्वास केंद्र एक इकोटूरिज़्म गाँव कोट्टूर, केरल में स्थापित किया जा रहा है। यह योजना श्रीलंका में स्थित पिनावाला हाथी अनाथालय (Pinnawala Elephant Orphanage) की तर्ज़ पर बनाई जा रही है। इस पुनर्वास केंद्र की स्थापना का प्रमुख उद्देश्य परित्यक्त, अनाथ, घायल और बूढ़े हाथियों को सुरक्षा प्रदान करना है। इससे लोगों को हाथियों के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने का अवसर प्राप्त होगा। यह वन्यजीव शोधकर्त्ताओं और पशुचिकित्सा से जुड़े छात्रों के लिये भी सहायक होगा। संभवतः इस पुनर्वास केंद्र में एक हाथी संग्रहालय, महावत प्रशिक्षण केंद्र, सुपर-स्पेशियलिटी हॉस्पिटल, जानवरों के लिये एक सेवानिवृत्ति घर और श्मशान गृह बनाया जाएगा।

  • 3. उस राज्य की पहचान कीजिये जहाँ विक्रमशिला गंगेटिक डॉल्फिन अभयारण्य स्थित है:

    उत्तर : भागलपुर, बिहार। विक्रमशिला गंगेटिक डॉल्फिन अभयारण्य भारतीय राज्य बिहार के भागलपुर में स्थित है। यह अभयारण्य सुल्तानगंज से कहलगाँव तक गंगा नदी के 50 किमी. के फैलाव में स्थित है। इसे वर्ष 1991 में लुप्तप्राय गंगेटिक डॉल्फ़िन के लिये संरक्षित क्षेत्र के रूप में नामित किया गया था।

  • 4. उस राज्य की पहचान कीजिये जो जल नीति का मसौदा तैयार करने वाला भारत का पहला राज्य बना है:

    उत्तर : मेघालय। हाल ही में मेघालय जल उपयोग, जल संरक्षण संबंधी मुद्दों और जल संरक्षण की समस्या को हल करने के उद्देश्य जल नीति का मसौदा तैयार करने वाला देश का पहला राज्य बना। संविधान की अनुसूची 7 के अनुसार, जल राज्यसूची का विषय है (राज्य सूची में प्रवेश 17)। इसके अनुसार जल, जल की आपूर्ति, सिंचाई और नहरों, जल निकासी और तटबंधों, जल भंडारण आदि राज्य की सूची के अंतर्गत आते हैं। हाल ही में राज्य सरकार ने जल संबंधी समस्याओं के समाधान हेतु जल शक्ति मिशन की शुरुआत भी की है।

  • 5. उस स्थान की पहचान कीजिये जहाँ लोअर सुबनसिरी जलविद्युत परियोजना का निर्माण किया जा रहा है:

    उत्तर : असम तथा अरुणाचल प्रदेश की सीमा पर। लोअर सुबनसिरी जलविद्युत परियोजना असम एवं अरुणाचल प्रदेश की सीमा के साथ सुबनसिरी नदी पर एक निर्माणाधीन ग्रेविटी बांध है। सुबनसिरी नदी (स्वर्ण नदी) तिब्बत पठार से निकलती है तथा अरुणाचल प्रदेश में मिरी पहाड़ियों के माध्यम से भारत में प्रवेश करती है। सुबनसिरी ब्रह्मपुत्र नदी की सबसे बड़ी सहायक नदी है। बांध सुरक्षा और प्रशासनिक मुद्दों पर स्थानीय आंदोलन के कारण इस परियोजना को लंबित रखा गया था।

एसएमएस अलर्ट
 

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

प्रोग्रेस सूची देखने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

आर्टिकल्स को बुकमार्क करने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close