Study Material | Mains Test Series
ध्यान दें:

भारत का मैप (V): अप्रैल, 2019

Solve Below Questions
  • 1. उस जगह की पहचान कीजिये जहाँ मतदाता जागरूकता के लिये शुभंकर के रूप में अलेक्जेंडरीन पैराकीट का उपयोग किया गया है।

    उत्तर : झालावाड़, राजस्थान : राजस्थान का झालावाड़ ज़िला प्रशासन 2019 के लोकसभा चुनावों के लिये मतदाता जागरूकता कार्यक्रम के शुभंकर के रूप में अलेक्जेंडरीन पैराकीट (Alexandrine Parakeet) का उपयोग कर रहा है। इसे गागरोन पैराकीट के रूप में भी जाना जाता है जिसका नाम झालावाड़ के गागरोन किले के नाम पर रखा गया है। इसे इंसानी आवाज़ की नकल करने के लिये भी जाना जाता है।

  • 2. उस जगह की पहचान कीजिये जहाँ नन्धौर वन्यजीव अभयारण्य स्थित है।

    उत्तर : उत्तराखंड : उत्तराखंड के नन्धौर वन्यजीव अभयारण्य में बाघों की बढ़ती संख्या के मद्देनज़र अधिकारियों ने इसे टाइगर रिज़र्व घोषित करने की मांग की है। 2012 में इस अभयारण्य के अस्तित्व में आने के समय यहाँ बाघों की संख्या केवल नौ थी जो 2018 में बढकर 27 हो गई। नन्धौर वन्यजीव अभयारण्य उत्तराखंड के कुमाऊँ क्षेत्र में नन्धौर नदी के पास स्थित है जो 269.5 वर्ग किमी. क्षेत्र में फैला हुआ है।

  • 3. उस जगह की पहचान कीजिये जहाँ गरिया पूजा को एक प्रमुख त्योहार के रूप में मनाया जाता है।

    उत्तर : त्रिपुरा : गरिया पूजा (Garia Puja) त्रिपुरा का एक प्रमुख त्योहार है। हिंदू कैलेंडर के अनुसार, यह पर्व चैत्र माह के अंतिम दिन से लेकर वैशाख महीने के सातवें दिन तक आयोजित किया जाता है। त्रिपुरी और रियांग जनजातियाँ इसे फसल के त्योहार के रूप में मनाती हैं।

  • 4. उस जगह की पहचान कीजिये जहाँ शोधकर्त्ताओं ने हाल ही में कई प्रवासी पूर्वी-एशियाई पक्षियों को देखा है।

    उत्तर : अंडमान व निकोबार द्वीपसमूह :जूलॉजिकल सर्वे ऑफ़ इंडिया (ZSI) के शोधकर्त्ताओं के अनुसार, 2004 के इंडोनेशियाई सूनामी के बाद से अंडमान तथा निकोबार द्वीपसमूह पूर्वी एशियाई पक्षियों की प्रजातियों के प्रथम ठहराव का प्रमुख स्थल बन गया है। पीठ पर हरे और भूरे रंग तथा आकार में छोटे हॉर्सफील्ड की कांस्य कोयल (Bronze Cuckoo/Chalcites basalis) जो ऑस्ट्रेलिया और न्यू गिनी में मूल रूप से पाया जाने वाला पक्षी है, अंडमान निकोबार द्वीपसमूह में देखा गया है।

  • 5. उस जगह की पहचान कीजिये जहाँ मंज़िरा वन्यजीव अभयारण्य स्थित है।

    उत्तर : तेलंगाना : मंजीरा वन्यजीव अभयारण्य (Manjeera Wildlife Sanctuary) तेलंगाना के मेडक ज़िले में स्थित है। यह मूल रूप से एक मगरमच्छ अभयारण्य है किंतु पक्षियों की 70 से अधिक प्रजातियाँ यहाँ देखी जा सकती हैं। यह अभयारण्य सुभेद्य मगरमच्छ (Mugger Crocodile) का आवास है।

एसएमएस अलर्ट
 

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

प्रोग्रेस सूची देखने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

आर्टिकल्स को बुकमार्क करने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close