Celebrate the festival of colours with our exciting offers.
ध्यान दें:

भारत का मैप (I): (मार्च, 2019)

Solve Below Questions
  • 1. उस राज्य की पहचान कीजिये जिसमें त्रिसूर कोले वेटलैंड, जो कि एक रामसर साइट भी है, स्थित है।

    उत्तर : वैज्ञानिकों ने त्रिसूर कोले वेटलैंड (Thrissur Kole Wetland) में विदेशी मछलियों की प्रजातियों की मौज़ूदगी को लेकर चिंता जताई है क्योंकि ऐसा कयास लगाया जा रहा है कि मूल प्रजातियों की तुलना में उनकी संख्या बढ़ जाएगी। कोले वेटलैंड केरल के त्रिसूर ज़िले में स्थित है। पक्षियों की संख्या के मामले में त्रिसूर कोले वेटलैंड ओडिशा के चिल्का झील और गुजरात के अमीपुर टैंक (Amipur Tank) के बाद भारत का तीसरा सबसे बड़ा वेटलैंड है। कोले भूमि अनूठे वेम्बनाड-कोले वेटलैंड पारिस्थितिकी तंत्र (Vembanad-Kole Wetland Ecosystem) का हिस्सा है जिसे 2002 में रामसर साइट के रूप में शामिल किया गया था।

  • 2. उस स्थान की पहचान कीजिये जहाँ चोलयुगीन मंदिर की पंचलौह मूर्तियाँ पाई गईं थीं।

    उत्तर : मध्य काल के दौरान आंध्र प्रदेश का मोतुपली दक्षिण एशियाई देशों के साथ व्यापार के लिये एक महत्त्वपूर्ण बंदरगाह था। मोतुपली में भगवान शिव को समर्पित वीरभद्र स्वामी का ऐतिहासिक मंदिर भी स्थित है। चोलों के शासनकाल में निर्मित इस मंदिर में तेलुगू और तमिल भाषा में शिलालेख और पंचलौह की विस्मयकारी मूर्तियाँ हैं। 1970 के दशक में पुरातत्त्व विभाग द्वारा भद्रकाली और भगवान नटराज सहित देवी-देवताओं की पंचलौह की मूर्तियों की खोज और संरक्षण के लिये मंदिर को बंद कर दिया गया था।

  • 3. उस राज्य की पहचान कीजिये जिसमें आरासालु स्टेशन (मालगुडी) स्थित है?

    उत्तर : भारतीय रेलवे ने कर्नाटक के शिवामोग्गा ज़िले के स्टेशन आरासालु का नाम बदलकर मालगुडी करने का निर्णय लिया है। शंकर नाग के प्रसिद्ध टेलीविज़न कार्यक्रम, मालगुडी डेज़ (आर. के. नारायण के उपन्यास पर आधारित) के कई दृश्य आरासालु स्टेशन पर फिल्माए गए थे। भारतीय रेलवे शंकर नाग को श्रद्धांजलि देने हेतु आरासालु स्टेशन का नाम परिवर्तन और उसका जीर्णोद्धार कर रही है। रेलवे इसे संग्रहालय में परिवर्तित करने की भी योजना बना रही है।

  • 4. उस राज्य की पहचान कीजिये जहाँ पथरिया हिल्स रिज़र्व फारेस्ट स्थित है।

    उत्तर : पथरिया हिल्स रिज़र्व फॉरेस्ट असम में स्थित है, जो भारत और बांग्लादेश के बीच हाथियों के संरक्षण हेतु आवश्यक सीमा पार संरक्षण प्रयासों के कारण खबरों में रहा है। बढ़ती मानव बस्तियों और सीमा पर विद्युत फेंसिंग की वज़ह से इस क्षेत्र में हाथियों के लिये खतरा उत्पन्न हो गया है। यह रिज़र्व फॉरेस्ट भारत और बांग्लादेश के बीच अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर स्थित है, जो असम के करीमगंज ज़िले के पश्चिमी हिस्से से लेकर बांग्लादेश के सिलहट ज़िले के पूर्वी हिस्से तक फैला हुआ है।

  • 5. उस स्थान की पहचान कीजिये जहाँ हाल ही में एशियन राइनो रेंज कन्ट्रीज (Asian Rhino Range Countries) की दूसरी बैठक का आयोजन किया।

    उत्तर : हाल ही में नई दिल्ली में एशियन राइनो रेंज कन्ट्रीज़ (Asian Rhino Range Countries) की दूसरी बैठक का आयोजन किया गया। इसका आयोजन केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय (MoEFCC), इंटरनेशनल यूनियन फॉर कंज़र्वेशन ऑफ नेचर (IUCN), एशियन राइनो स्पेशलिस्ट ग्रुप के साथ-साथ वर्ल्ड वाइल्डलाइफ फंड-इंडिया (WWF) और एक NGO इंटरनेशनल राइनो फाउंडेशन एंड अरण्यक (International Rhino Foundation and Aaranyak) द्वारा किया गया था। एशियन राइनो रेंज कन्ट्रीज़ में भूटान, भारत, इंडोनेशिया, मलेशिया और नेपाल शामिल हैं। इस सम्मेलन के दौरान नई दिल्ली घोषणा (New Delhi Declaration) को अपनाया गया, जिसमें एक-सींग वाले राइनो के संरक्षण और सुरक्षा हेतु भारत, नेपाल और भूटान के बीच सीमा-पार सहयोग को रेखांकित किया गया है।

एसएमएस अलर्ट
 

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

प्रोग्रेस सूची देखने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

आर्टिकल्स को बुकमार्क करने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close