दृष्टि ज्यूडिशियरी का पहला फाउंडेशन बैच 11 मार्च से शुरू अभी रजिस्टर करें
ध्यान दें:

भारत का मैप (I) : जनवरी, 2019

मैप आधारित प्रश्न
  • 1. हाल ही में रैट होल खनन के लिये समाचारों में रहे इस राज्य की पहचान करें:

    उत्तर : मेघालय : प्रतिबंध के बावजूद, रैट-होल खनन मेघालय में कोयला खनन की एक प्रचलित प्रथा है, जहाँ हाल ही में एक खदान के ढहने की खबर समाचारों में रही। रैट होल खनन के अंतर्गत बहुत छोटी सुरंगों की खुदाई शामिल है, ये सुरंगें आम-तौर पर केवल 3 से 4 फीट ऊँची होती है, इनमें  श्रमिक (अक्सर बच्चे) प्रवेश करते हैं और कोयला निकालते हैं। वर्ष 2014 में राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (National Green Tribunal-NGT) ने इसे प्रतिबंधित कर दिया था, क्योंकि यह श्रमिकों के लिये अवैज्ञानिक और असुरक्षित है। राज्य (मेघालय) सरकार ने NGT के प्रतिबंध को सर्वोच्च न्यायालय में चुनौती दी है।

  • 2. उस स्थान की पहचान करें जहाँ ‘डायमंड ट्रायंगल’ स्थित है।

    उत्तर : ओड़िशा: हाल ही में प्रधानमंत्री ने ओड़िशा के ललितगिरि में बौद्ध पुरातत्त्व संग्रहालय का उद्घाटन किया। ललितगिरि (लाल पहाड़ी), रत्नागिरि (कीमती रत्नों की पहाड़ी), उदयगिरि (उगते सूरज की पहाड़ी) को ओडिशा के ‘डायमंड ट्रायंगल’ के रूप में जाना जाता है, जो मौर्य युग की वास्तुकला और शिल्पकला की समृद्ध विरासत का प्रतिनिधित्त्व करते हैं, जिसने उत्कृष्टता के एक नए स्तर को छूआ।

  • 3. उस स्थान की पहचान करें जहाँ दाचीगाम राष्ट्रीय उद्यान स्थित है।

    उत्तर : जम्मू-कश्मीर: दाचीगाम राष्ट्रीय उद्यान (Dachigam National Park) एक खूबसूरत स्थान है, जो जम्मू-कश्मीर राज्य के श्रीनगर ज़िले से लगभग 22 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह पार्क अपने अनोखे और विविध वन्यजीवों तथा पक्षी प्रजातियों के लिये प्रसिद्ध है। इसे हंगुल का आखिरी अविवादित आवास माना जाता है। कश्मीरी बारहसिंगे को कश्मीर में स्थानीय रूप से हंगुल (Hangul) भी कहा जाता है जो भारत में यूरोपीय लाल हिरणों की एकमात्र उप-प्रजाति है। हंगुल जम्मू-कश्मीर का राजकीय पशु भी है।

  • 4. उस स्थान की पहचान करें जहाँ सूचना संलयन केंद्र - हिंद महासागरीय क्षेत्र (IFC- IOR) की स्थापना की गई है।

    उत्तर : गुरुग्राम, हरियाणा: 22 दिसंबर, 2018 को सूचना संलयन केंद्र - हिंद महासागरीय क्षेत्र (IFC-IOR) की स्थापना गुरुग्राम में नौसेना के सूचना प्रबंधन और विश्लेषण केंद्र (Information Management and Analysis Centre- IMAC) में की गई है। यह केंद्र समुद्री सूचना संग्रह और साझाकरण में समुद्री अभ्यास और प्रशिक्षण संबंधी जानकारियों का संग्रहण करेगा। यह केंद्र समुद्री सूचना संग्रह और साझाकरण में समुद्री अभ्यास और प्रशिक्षण संबंधी जानकारियों का संग्रहण भी करेगा।

  • 5. उस स्थान की पहचान करें जो हाल ही में शैलोत्कीर्ण के लिये समाचारों में था।

    उत्तर : आंध्र प्रदेश: कुरनूल ज़िले के मेकाला बेनची में आंध्र प्रदेश की दूसरे सबसे बड़े शैलोत्कीर्ण स्थल (लगभग 80 शैलोत्कीर्ण) की खोज की गई है। आंध्र प्रदेश का कंदनाथी 200 शैलोत्कीर्ण वाला राज्य का सबसे बड़ा शैलोत्कीर्ण स्थल है, यह भी कुरनूल ज़िले में ही अवस्थित है। शैलोत्कीर्ण पत्थरों पर की गई नक्काशी होती है (रॉक पेंटिंग्स को पिक्टोग्राफ अथवा चित्रलिपि कहा जाता है), इसमें किसी पत्थर की छेनी और एक हथौड़ा का उपयोग करके चट्टान की सतह पर आकृति को उकेरा जाता है।

close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2