दृष्टि ज्यूडिशियरी का पहला फाउंडेशन बैच 11 मार्च से शुरू अभी रजिस्टर करें
ध्यान दें:

भारत का मैप: सितंबर 2023

मैप आधारित प्रश्न
  • 1. हूलोंगापार गिब्बन अभयारण्य, जहाँ प्राइमेटोलॉजिस्ट्स ने हाल ही में 1.65 किलोमीटर लंबे रेलवे ट्रैक जो जो इसे दो असमान भागों में विभाजित करता है का मार्ग बदलने की सिफारिश की है, किस भारतीय राज्य में स्थित है?

    उत्तर : असम। प्राइमेटोलॉजिस्ट्स ने 1.65 किलोमीटर लंबे रेलवे ट्रैक का मार्ग बदलने का प्रस्ताव दिया है जो पूर्वी असम में हूलोंगापार गिब्बन अभयारण्य को दो असमान हिस्सों में विभाजित करता है। इस अभयारण्य में पश्चिमी हूलॉक गिब्बन पाए जाते हैं।

  • 2. G20 शिखर सम्मेलन में, भारत के जनजातीय सहकारी विपणन विकास परिसंघ (TRIFED) ने भारत के जनजातीय समुदायों के शिल्प कौशल पर प्रकाश डाला। उन भारतीय राज्यों की पहचान कीजिये जहाँ तांगखुल जनजाति मूल निवासी/स्थानिक है।

    उत्तर : मणिपुर। मूलतः मणिपुर के लोंगपी गाँव की निवासी तांगखुल नगा जनजाति मिट्टी के बर्तनों की असाधारण शैली लोंगपी का अभ्यास करती है।

  • 3. अराकू कॉफी की खेती किस भारतीय क्षेत्र (एक घाटी) में की जाती है, जो इसे जैविक और सतत् वृक्षारोपण के माध्यम से उगाई जाने वाली विश्व की पहली टेरोइर-मैप्ड कॉफी बनाती है ?

    उत्तर : आंध्र प्रदेश की अराकू घाटी। अराकू कॉफी विश्व की पहली टेरोइर-मैप्ड कॉफी है, जो आंध्र प्रदेश की अराकू घाटी में जैविक और सतत् वृक्षारोपण के माध्यम से उगाई जाती है। किसान छोटे खेतों में हाथ से कार्य करते हैं और मशीनों या रसायनों के उपयोग के बिना प्राकृतिक रूप से कॉफी उगाते हैं।

  • 4. आप किस भारतीय राज्य में मांधाता द्वीप, आदि शंकराचार्य को समर्पित 'स्टैच्यू ऑफ वननेस' और 12 ज्योतिर्लिंगों में से दो का स्थान पा सकते हैं?

    उत्तर : मध्यप्रदेश। मध्य प्रदेश (MP) के मुख्यमंत्री ने खंडवा ज़िले के ओंकारेश्वर में मांधाता पर्वत पर आदि शंकराचार्य की 108 फीट ऊँची 'स्टैच्यू ऑफ वननेस' का अनावरण किया और अद्वैत लोक की आधारशिला रखी। मांधाता द्वीप, जो कि नर्मदा नदी पर स्थित है, 12 ज्योतिर्लिंगों में से दो ज्योतिर्लिंग- पहला- द्वीप के दक्षिण की ओर स्थित ओंकारेश्वर तथा दूसरा अमरेश्वर है। इस द्वीप पर 14वीं और 18वीं शताब्दी के शैव, वैष्णव तथा जैन मंदिर हैं।

  • 5. उन तीन शहरों की अवस्थिति को दर्शाइये जहाँ प्रसिद्ध होयसल मंदिर स्थित हैं, जिन्हें हाल ही में 42वीं संयुक्त यूनेस्को विश्व धरोहर स्थलों की सूची में शामिल किया गया है।

    उत्तर : कर्नाटक में बेलूर, हलेबिड और सोमनाथपुर। होयसल के पवित्र समूह, कर्नाटक के बेलूर, हलेबिड और सोमनाथपुर के प्रसिद्ध होयसल मंदिरों को संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक एवं सांस्कृतिक संगठन (UNESCO) की विश्व विरासत सूची में जोड़ा गया है। यह समावेशन भारत में 42वें UNESCO विश्व धरोहर स्थल का प्रतीक है।

close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2