दृष्टि ज्यूडिशियरी का पहला फाउंडेशन बैच 11 मार्च से शुरू अभी रजिस्टर करें
ध्यान दें:

भारत का मैप: जुलाई 2023

मैप आधारित प्रश्न
  • 1. उस वन्यजीव अभयारण्य को चिन्हित कीजिये जिसे हाल ही में किसी भी मानव बस्ती से पूरी तरह मुक्त कर दिया गया है।

    उत्तर : डेब्रीगढ़ वन्यजीव अभयारण्य, बरगढ़ ज़िला, ओडिशा। ओडिशा के बरगढ़ ज़िले में एक वन्यजीव अभयारण्य डेब्रीगढ़ को किसी भी मानव बस्ती से पूरी तरह मुक्त कर दिया गया है। राज्य वन और पर्यावरण विभाग के अनुसार, डेब्रीगढ़ अभयारण्य, जिसे एक बाघ अभयारण्य के रूप में प्रस्तावित किया गया है, में उच्च शिकार आधार है।

  • 2. उस राज्य के स्थान को चिन्हित कीजिये जहाँ भारत में नई स्तनपायी प्रजातियाँ मिनीओप्टेरस फिलिप्सी जो एक लंबी उंगलियों वाला चमगादड़ है और ग्लिस्क्रोपस मेघालायनस जो एक बाँस में रहने वाला चमगादड़ है, पाई जाती हैं।

    उत्तर : मेघालय। नई स्तनपायी प्रजातियाँ मिनिओप्टेरस फिलिप्सी, एक लंबी उंगलियों वाला चमगादड़ और ग्लिस्क्रोपस मेघलायनस, एक बाँस में रहने वाला चमगादड़, दोनों मेघालय में पाए गए हैं।

  • 3. उस राज्य को चिन्हित कीजिये जहाँ नई मकाक प्रजाति सेला मकाक (मकाका सेलाई) पाई गई थी।

    उत्तर : अरुणाचल प्रदेश। सेला मकाक (मकाका सेलाई), अरुणाचल प्रदेश में पाई जाने वाली एक नई मकाक प्रजाति है। फाइलोजेनेटिक विश्लेषण से पता चला कि सेला मकाक को भौगोलिक रूप से सेला द्वारा तवांग ज़िले के अरुणाचल मकाक (मकाका मुंजाला) से अलग किया गया था।

  • 4. बॉम्बे हाई कोर्ट की गोवा पीठ ने वन्यजीव संरक्षण अधिनियम, 1972 के अंतर्गत एक वन्यजीव अभयारण्य और उसके आसपास के क्षेत्रों को बाघ रिज़र्व के रूप में अधिसूचित करने का निर्देश जारी किया है। उस वन्यजीव अभयारण्य की स्थिति को चिन्हित कीजिये।

    उत्तर : महादेई वन्यजीव अभयारण्य, गोवा। बॉम्बे हाई कोर्ट की गोवा पीठ ने गोवा सरकार को वन्यजीव संरक्षण अधिनियम, 1972 के अंतर्गत महादेई वन्यजीव अभयारण्य और इसके आसपास के क्षेत्रों को बाघ रिज़र्व के रूप में अधिसूचित करने का निर्देश जारी किया है।

  • 5. भारत में उस ज़िले की अवस्थिति बताइयेन जहाँ भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण ने हाल ही में G3 चरण खनिज अन्वेषण परियोजना द्वारा लीथियम भंडार की खोज की है।

    उत्तर : जम्मू और कश्मीर के रियासी ज़िले का सलाल-हैमाना क्षेत्र। भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण ने पहली बार केंद्रशासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर के सलाल-हैमाना क्षेत्र में 5.9 मिलियन टन से अधिक के लिथियम के अनुमानित भंडार (G3) की खोज की है।

close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2