हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

भारत का मैप (I) : नवंबर 2020

मैप आधारित प्रश्न
  • 1. उस राज्य की पहचान कीजिये जहाँ पुरातात्त्विक स्थल कोटड़ा भादली अवस्थित है:

    उत्तर : गुजरात। हाल ही में भारत और कनाडा के पुरातत्त्वविदों द्वारा किये गए एक अध्ययन में पाया गया है कि 2500 ईसा पूर्व में हड़प्पावासियों द्वारा डेयरी उत्पादों का उत्पादन किया जाता था। इस खोज से डेयरी उत्पादन के आरंभिक साक्ष्यों के बारे में जानकारी प्राप्त हुई है। अध्ययन के परिणाम गुजरात में कोटड़ा भादली नामक पुरातात्त्विक स्थल से पाए गए मिट्टी के बर्तनों में उपस्थित अवशेषों के आणविक रासायनिक विश्लेषण पर आधारित है।

  • 2. उस स्थान की पहचान कीजिये जहाँ तटीय लाल तलछट का एक टीला- एर्रा मट्टी डिब्बालू अवस्थित है:

    उत्तर : विशाखापत्तनम तथा भीमुनिपत्तनम। एर्रा मट्टी डिब्बालू, तटीय लाल तलछट के टीले हैं जो विशाखापत्तनम और भीमुनिपत्तनम (Bheemunipatnam) के बीच स्थित हैं। इन टीलों की चौड़ाई 200 मीटर से 2 किलोमीटर तक है, जो तट के किनारे पाँच किलोमीटर तक विस्तृत हैं। इस प्रकार के टीलों का जमाव इस क्षेत्र के अलावा दक्षिण एशिया में केवल दो अन्य स्थलों- तमिलनाडु के ‘तेरी सैंड्स’ (Teri Sands) और श्रीलंका के ‘रेड कोस्टल सैंड्स’ (Red Coastal Sands) में है।

  • 3. उस स्थान की पहचान कीजिये जहाँ कीठम झील अवस्थित है:

    उत्तर : सूर सरोवर पक्षी अभयारण्य (आगरा)। सूर सरोवर पक्षी अभयारण्य के भीतर स्थित ‘सूर सरोवर’ को कीठम झील (Keetham Lake) के नाम से भी जाना जाता है। वर्ष 1991 में इसे पक्षी अभयारण्य घोषित किया गया था। यह झील उत्तर प्रदेश के आगरा में यमुना नदी के किनारे अवस्थित है।

  • 4. उस स्थान की पहचान कीजिये जहाँ गिद्ध देखभाल केंद्र (VCC) की स्थापना की गई है:

    उत्तर : पिंजौर, हरियाणा। गिद्धों की मौत के कारणों का अध्ययन करने के लिये वर्ष 2001 में हरियाणा के पिंजौर में एक गिद्ध देखभाल केंद्र (Vulture Care Centre-VCC) स्थापित किया गया था। राज्य के बीर शिकारगाह वन्यजीव अभयारण्य के भीतर स्थित जटायु संरक्षण प्रजनन केंद्र, भारतीय गिद्ध प्रजातियों के प्रजनन और संरक्षण के लिये स्थापित विश्व की सबसे बड़ी सुविधा है।

  • 5. महाराष्ट्र की उस झील को चिह्नित कीजिये जिसे हाल ही में रामसर स्थल घोषित किया गया था:

    उत्तर : लोनार झील (बुलढाणा, महाराष्ट्र)। हाल ही में महाराष्ट्र के बुलढाणा ज़िले में स्थित एक क्रेटर झील- लोनार और आगरा स्थित सूरसरोवर को रामसर स्थल घोषित किया गया है अर्थात् ‘इंटरनेशनल रामसर कन्वेंशन ऑन वेटलैंड्स’ (International Ramsar Convention on Wetlands) द्वारा ‘कंज़र्वेशन स्टेटस’ (Conservation Status) प्रदान किया गया है।

एसएमएस अलर्ट
 

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

प्रोग्रेस सूची देखने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

आर्टिकल्स को बुकमार्क करने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close