दृष्टि ज्यूडिशियरी का पहला फाउंडेशन बैच 11 मार्च से शुरू अभी रजिस्टर करें
ध्यान दें:

Be Mains Ready

  • 18 Nov 2021 सामान्य अध्ययन पेपर 2 राजव्यवस्था

    प्रश्न. राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 की मुख्य विशेषताओं पर चर्चा कीजिये और यह बताईये कि यह भारतीय शिक्षा प्रणाली में कैसे समग्र परिवर्तन ला सकती है?

    उत्तर

    हल करने का दृष्टिकोण

    • राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP) 2020 के लक्ष्य को संक्षेप में प्रस्तुत करते हुए उत्तर की शुरुआत कीजिये।
    • NEP 2020 की मुख्य विशेषताओं और इसके महत्त्व पर चर्चा कीजिये।
    • उपयुक्त निष्कर्ष लिखिये।

    परिचय

    भारत सरकार ने लगभग तीन दशकों के अंतराल के बाद वर्ष 2020 में राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP) की घोषणा की।

    नई नीति में प्राथमिक विद्यालयों से जुड़ी खराब साक्षरता और संख्यात्मक परिणामों में सुधार, माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक विद्यालयों में ड्रॉपआउट स्तर में कमी तथा उच्च शिक्षा प्रणाली में बहु-विषयक दृष्टिकोण को अपनाने की मांग की गई है।

    प्रारूप

    NEP 2020 की मुख्य विशेषताएँ और इसका महत्त्व

    • प्रारंभिक वर्षों के महत्त्व को पहचानना: 3 साल की उम्र से स्कूली शिक्षा के लिये 5+3+3+4 मॉडल अपनाकर यह नीति बच्चों के भविष्य को आकार देने में 3 से 8 साल की उम्र के प्रारंभिक वर्षों की महत्ता को चिह्नित करती है।
    • सिलोस मानसिकता से प्रस्थान: नई नीति में स्कूली शिक्षा का एक अन्य महत्त्वपूर्ण पहलू हाई स्कूल में कला, वाणिज्य और विज्ञान स्ट्रीम के सख्त विभाजन को तोड़ना है।
      • यह उच्च शिक्षा में बहु-विषयक दृष्टिकोण की नींव रख सकता है।
    • शिक्षा और कौशल का संगम: इस योजना का एक अन्य प्रशंसनीय पहलू इंटर्नशिप के साथ व्यावसायिक पाठ्यक्रमों की शुरूआत है। यह समाज के कमज़ोर वर्गों को अपने बच्चों को स्कूल भेजने के लिये प्रेरित कर सकता है।
      • साथ ही, यह स्किल इंडिया मिशन के लक्ष्य को साकार करने में मदद करेगा।
    • शिक्षा को अधिक समावेशी बनाना: NEP 18 वर्ष तक के सभी बच्चों के लिये शिक्षा के अधिकार (RTE) के विस्तार का प्रावधान करती है।
      • इसके अलावा यह नीति उच्च शिक्षा में सकल नामांकन बढ़ाने के लिये ऑनलाइन शिक्षा और सीखने के तरीकों की विशाल क्षमता का लाभ उठाने का प्रयास करती है।
    • विदेशी विश्वविद्यालयों को अनुमति देना: NEP 2020 में कहा गया है कि दुनिया के शीर्ष 100 विश्वविद्यालय भारत में अपना परिसर स्थापित करने में सक्षम होंगे।
    • इससे अंतर्राष्ट्रीय परिप्रेक्ष्य और नवाचार का संचार होगा, जो भारतीय शिक्षा प्रणाली को अधिक कुशल एवं प्रतिस्पर्द्धी बना देगा।
    • हिंदी बनाम अंग्रेज़ी की बहस का अंत: सबसे महत्त्वपूर्ण बात NEP, एक ही बार में और सभी के लिये, हिंदी बनाम अंग्रेज़ी भाषा पर जारी सख्त बहस को दबा देती है।
      • यह कम-से-कम 5वीं कक्षा तक मातृभाषा, स्थानीय भाषा या क्षेत्रीय भाषा को शिक्षा का माध्यम बनाने पर ज़ोर देती है, जिसे शिक्षण का सबसे अच्छा माध्यम माना जाता है।

    निष्कर्ष

    यद्यपि NEP 2020 भारत की शिक्षा प्रणाली में समग्र परिवर्तन लाने का प्रयास करती है, लेकिन इसकी सफलता इच्छा और इसे लागू करने के तरीके पर निर्भर करती है।

close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2