महत्त्वपूर्ण संस्थान/संगठन

राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (NDMA) | 05 Sep 2019 | विविध

 Last Updated: July 2022 

राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण का विकास

राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के कार्य तथा उत्तरदायित्व

भारत में आपदा प्रबंधन हेतु संस्थागत संरचना

केंद्र सरकार योजनाएँ, नीतियां और दिशा-निर्देश तैयार करती है और तकनीकी, वित्तीय और संभरण सहायता देती है जबकि जिला प्रशासन केंद्रीय और राज्य स्तर की एजेंसियों के साथ मिलकर अधिकांश कार्यों को सम्पन्न करता है।

राष्ट्रीय कार्यकारी समिति (NEC)

राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन संस्थान (NIDM)

राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF)

राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन योजना (NDMP)

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने 1 जून, 2016 को राष्‍ट्रीय आपदा प्रबंधन योजना (NDMP) जारी की थी। देश में पहली बार इस तरह की राष्‍ट्रीय योजना तैयार की गई है।

मुख्य विशेषताएं

NDMP आपदा जोखिम घटाने के लिये प्रमुखतः सेंडाई फ्रेमवर्क में तय किये गए लक्ष्‍यों और प्राथमिकताओं के साथ तालमेल करता है।

  1. जोखिम को समझना
  2. एजेंसियों के बीच सहयोग
  3. आपदा जोखिम न्यूनीकरण (Disaster Risk Reduction-DRR) में सहयोग– संरचनात्‍मक उपाय
  4. DRR में सहयोग– गैर-संरचनात्‍मक उपाय
  5. क्षमता विकास
  1. पूर्व चेतावनी, मानचित्र, उपग्रह इनपुट, सूचना प्रसार
  2. पशुओं और लोगों को हटाना
  3. पशुओं और लोगों को ढूंढना और बचाना
  4. स्‍वास्‍थ्‍य सेवाएँ
  5. पेयजल/निर्जलीकरण पंप/स्वच्छता सुविधाएँ/सार्वजनिक स्वास्थ्य
  6. खाद्य और आवश्यक आपूर्ति
  7. संचार
  8. आवास और झोपड़ियाँ
  9. बिजली
  10. ईंधन
  11. परिवहन
  12. राहत रसद और आपूर्ति श्रृंखला प्रबंधन
  13. पशु के शवों का निपटान
  14. प्रभावित क्षेत्रों में पशुओं के लिये चारा
  15. पुनर्वास एवं पशुधन और अन्य जानवरों के लिये पशु चिकित्सा देखभाल सुनिश्चित करना
  16. डेटा संग्रह और प्रबंधन
  17. राहत रोज़गार
  18. मीडिया संपर्क

योजना में आपदा जोखिम की बेहतर शासन प्रणाली के लिये एक अध्याय भी शामिल किया गया है। केंद्र और राज्‍यों की संबंधित भूमिकाओं वाली विशेष एजेंसियों की सामान्यीकृत ज़िम्मेदारियाँ इस खंड में दी गई हैं। छह क्षेत्रों में केंद्र और राज्य सरकारें आपदा जोखिम शासन प्रणाली को मजबूत करने के लिये कार्रवाई करेंगी :

  1. मुख्यधारा और एकीकृत DRR और संस्थागत सुदृढ़ीकरण
  2. विकास क्षमता
  3. भागीदारीपूर्ण नज़रिये को बढ़ावा देना
  4. चुने हुए प्रतिनिधियों के साथ काम करना
  5. शिकायत निवारण प्रणाली
  6. आपदा जोखिम प्रबंधन के लिये गुणवत्ता वाले मानकों, प्रमाणीकरण, आदि को बढ़ावा देना

राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन योजना आपदा प्रबंधन चक्र के सभी चरणों के लिये सरकारी एजेंसियों को रूपरेखा और दिशा प्रदान करता है।

राज्यस्तरीय संस्थाएं

राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (SDMA)

राज्य कार्यकारी समिति (SEC)

ज़िलास्तरीय संस्थाएँ

ज़िला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (DDMA)

भारत में आपदा नियोजन की उपलब्धियाँ

आपदा प्रबंधन हेतु भारत के प्रयास: 

कमियाँ और चुनौतियाँ

आगे की राह