टू द पॉइंट

भारत @75:भाग lll | 24 Sep 2022 | भारतीय अर्थव्यवस्था

प्रिलिम्स के लिये:

पंचवर्षीय योजनाएंँ, हरित क्रांति, 1991 आर्थिक सुधार, GST, ISRO और पहल, CSIR और संबंधित नवाचार, एकीकृत निर्देशित मिसाइल कार्यक्रम, विशालकाय मीटरवेव रेडियो टेलीस्कोप, LAC तेजस, DRDO, मिशन शक्ति, PSLV, GSLV, स्टॉकहोम सम्मेलन, पर्यावरण और जैवविविधता से संबंधित अधिनियम और नियम।

मेन्स के लिये:

स्वतंत्रता के बाद से भारत का आर्थिक विकास, स्वतंत्रता के बाद से भारत की वैज्ञानिक प्रगति, पर्यावरण की रक्षा के लिये भारत की पहल।

संदर्भ:

पिछले सात दशकों में भारतीय अर्थव्यवस्था ने कई उतार-चढ़ाव देखे हैं। स्वतंत्रता के समय देश की GDP केवल 2.7 लाख करोड़ रुपए थी, जो अब 150 लाख करोड़ रुपए के करीब पहुँच गई है। कभी "तीसरी दुनिया का देश" कहे जाने वाला भारत अब दुनिया की पांँचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है।

भारत ने आर्थिक रूप से कैसे प्रगति की है?

  UPSC सिविल सेवा परीक्षा, विगत वर्ष के प्रश्न (PYQ):  

प्रिलिम्स

प्रश्न 1. 1991 में आर्थिक नीतियों के उदारीकरण के बाद भारत में निम्नलिखित में से क्या प्रभाव उत्पन्न हुआ है? (2017)

  1. सकल घरेलू उत्पाद में कृषि की हिस्सेदारी में भारी वृद्धि हुई।
  2. विश्व व्यापार में भारत के निर्यात का हिस्सा बढ़ा।
  3. FDI प्रवाह बढ़ा।
  4. भारत के विदेशी मुद्रा भंडार में भारी वृद्धि हुई।

नीचे दिये गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिये:

(A) केवल 1 और 4
(B) केवल 2, 3 और 4
(C) केवल 2 और 3
(D) 1, 2, 3 और 4

उत्तर: (B)

प्रश्न 2. निम्नलिखित में से कौन-सा/से तेरहवें वित्त आयोग की सिफारिशों की उल्लेखनीय विशेषता/विशेषताएंँ है/हैं? (2012)

  1. माल और सेवा कर के लिये डिज़ाइन और प्रस्तावित डिज़ाइन के पालन से जुड़ा एक मुआवज़ा पैकेज़।
  2. भारत के जनसांख्यिकीय लाभांश के अनुरूप अगले दस वर्षों में लाखों नौकरियों के सृजन के लिये एक डिज़ाइन।
  3. स्थानीय निकायों को अनुदान के रूप में केंद्रीय करों के एक निर्दिष्ट हिस्से का हस्तांतरण।

नीचे दिये गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिये:

(A) केवल 1
(B) केवल 2 और 3
(C) केवल 1 और 3
(D) 1, 2 और 3

उत्तर: (C)

प्रश्न 3. 1991 के आर्थिक उदारीकरण के बाद भारतीय अर्थव्यवस्था के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजियेः (2020)

  1. शहरी क्षेत्रों में श्रमिक उत्पादकता (2004-05 की कीमतों पर प्रति कार्यकर्त्ता रुपए) में वृद्धि हुई, जबकि ग्रामीण क्षेत्रों में यह घट गई।
  2. कार्यबल में ग्रामीण क्षेत्रों की प्रतिशत हिस्सेदारी में लगातार वृद्धि हुई।
  3. ग्रामीण क्षेत्रों में गैर-कृषि अर्थव्यवस्था में वृद्धि हुई।
  4. ग्रामीण रोज़गार में वृद्धि दर में कमी आई है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

(A) केवल 1 और 2
(B) केवल 3 और 4
(C) केवल 3
(D) केवल 1, 2 और 4

उत्तर: (B)


मेन्स

प्रश्न 1. क्या 1991 में शुरू हुए उदारीकरण, निजीकरण और वैश्वीकरण की मांगों के लिये भारत सरकार की व्यवस्था ने पर्याप्त रूप से प्रतिक्रिया दी है? इस महत्त्वपूर्ण परिवर्तन के प्रति उत्तरदायी होने के लिये सरकार क्या कर सकती है? (2016)

प्रश्न 2 उदारीकरण के बाद की अवधि के दौरान बजट बनाने के संदर्भ में सार्वजनिक व्यय प्रबंधन भारत सरकार के लिये एक चुनौती है। स्पष्ट कीजिये। (2019)

प्रश्न 3. भारतीयों के स्वामित्व वाली कंपनियों पर उदारीकरण के प्रभाव का परीक्षण कीजिये। क्या वे बहुराष्ट्रीय कंपनियों के साथ संतोषजनक रूप से प्रतिस्पर्द्धा कर रहे हैं? चर्चा कीजिये। (2013)

प्रश्न 4. संविधान (101 संशोधन) अधिनियम, 2016 की मुख्य विशेषताओं की व्याख्या कीजिये। क्या आपको लगता है कि यह "करों के व्यापक प्रभाव को दूर करने और वस्तुओं एवं सेवाओं के लिये सामान्य राष्ट्रीय बाज़ार प्रदान करने" के लिये पर्याप्त रूप से प्रभावशाली है? (2017)

प्रश्न 5. 2017 के वस्तु एवं सेवा कर (राज्यों को मुआवज़ा) अधिनियम के पीछे के औचित्य की व्याख्या कीजिये। COVID-19 ने GST क्षतिपूर्ति कोष को कैसे प्रभावित किया है और नए संघीय तनाव पैदा किये हैं? (2020)

प्रश्न 6. नीति आयोग द्वारा अनुसरण किये जाने वाले सिद्धांत भारत में तत्कालीन योजना आयोग द्वारा अपनाए गए सिद्धांतों से कैसे भिन्न हैं? (2018)


भारत की वैज्ञानिक प्रगति:

भारत की वैज्ञानिक प्रगति के मील के पत्थर: 

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन का योगदान

वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद (CSIR) का योगदान:

  UPSC सिविल सेवा परीक्षा, पिछले वर्ष के प्रश्न (PYQ)  

प्रिलिम्स:

प्रश्न 1. निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिये: (2016)

ISRO द्वारा लॉन्च किया गया मंगलयान

  1. इसे मार्स ऑर्बिटर मिशन भी कहा जाता है
  2. संयुक्त राज्य अमेरिका के बाद मंगल ग्रह की कक्षा में अंतरिक्ष यान स्थापित वाला भारत दूसरा देश बना
  3. भारत अपने पहले ही प्रयास में मंगल ग्रह की कक्षा में अंतरिक्षयान स्थापित करने में सफल होने वाला एकमात्र देश बना दिया

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

(A) केवल 1
(B) केवल 2 और 3
(C) केवल 1 और 3
(D) 1, 2 और 3

उत्तर: (C)

प्रश्न 2. भारत के उपग्रह प्रक्षेपण वाहनों के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिये: (2018)

  1. PSLV पृथ्वी संसाधनों की निगरानी के लिये उपयोगी उपग्रहों को लॉन्च करते हैं, जबकि GSLV को मुख्य रूप से संचार उपग्रहों को लॉन्च करने के लिये डिज़ाइन किया गया है।
  2. PSLV द्वारा प्रक्षेपित उपग्रह आकाश में उसी स्थिति में स्थायी रूप से स्थिर प्रतीत होते हैं, जैसा कि पृथ्वी पर किसी विशेष स्थान से देखा जाता है।
  3. GSLV एमके III एक चार चरणों वाला प्रक्षेपण यान है जिसमें पहले और तीसरे चरण में ठोस रॉकेट मोटर्स का उपयोग किया गया है; तथा दूसरे एवं चौथे चरण में तरल रॉकेट इंजन का उपयोग किया जाता है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

(A) केवल 1
(B) केवल 2 और 3
(C) केवल 1 और 2
(D) केवल 3

उत्तर: (A)


मेन्स

प्रश्न 1. भारत ने चंद्रयान और मार्स ऑर्बिटर मिशन सहित मानव रहित अंतरिक्ष मिशन में उल्लेखनीय सफलता हासिल की है, लेकिन मानवयुक्त अंतरिक्ष मिशन में प्रवेश नहीं किया है। प्रौद्योगिकी और लॉजिस्टिक्सस दोनों के मामले में मानवयुक्त अंतरिक्ष मिशन शुरू करने में मुख्य बाधाएंँ क्या हैं? आलोचनात्मक जाँच कीजिये। (2017)

प्रश्न 2. अंतरिक्ष विज्ञान और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में भारत की उपलब्धियों की चर्चा कीजिये। इस तकनीक के अनुप्रयोग ने भारत के सामाजिक-आर्थिक विकास में किस प्रकार सहायता की है? (2016)

प्रश्न 3. भारत का अपना अंतरिक्ष स्टेशन बनाने की क्या योजना है और इससे हमारे अंतरिक्ष कार्यक्रम को क्या लाभ होगा? (2019)


पिछले 75 वर्षों में भारत में पर्यावरण की स्थिति:

औपनिवेशिक युग के पर्यावरण कानून राजस्व लाभ या उच्च वर्ग के हितों की रक्षा के लिये उन्मुख थे। पहला बदलाव वर्ष 1972 में आया जब स्टॉकहोम सम्मेलन ने पर्यावरण के संरक्षण और संरक्षण की दिशा में वैश्विक दृष्टिकोण को स्थानांतरित कर दिया।

भारत ने वनों और वन्यजीवों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिये प्रशासनिक तथा कानूनी ढाँचे का निर्माण किया। पर्यावरण की रक्षा के लिये भारत की पहलों  में शामिल हैं:

  UPSC सिविल सेवा परीक्षा, पिछले वर्ष के प्रश्न (PYQ)

प्रिलिम्स

प्रश्न 1. निम्नलिखित में से किसके तहत जेनेटिक इंजीनियरिंग मूल्यांकन समिति (2015) गठित की गई है?

(A) खाद्य सुरक्षा और मानक अधिनियम, 2006
(B) माल के भौगोलिक संकेत (पंजीकरण और संरक्षण) अधिनियम, 1999
(C) पर्यावरण (संरक्षण) अधिनियम, 1986
(D) वन्यजीव (संरक्षण) अधिनियम, 1972

उत्तर: (C)

प्रश्न 2. निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिये: (2019)

पर्यावरण संरक्षण अधिनियम, 1986 भारत सरकार को अधिकार देता है:

  1. पर्यावरण संरक्षण की प्रक्रिया में जनभागीदारी की आवश्यकता और इसकी मांग की प्रक्रिया एवं तरीके का उल्लेख करने का
  2. विभिन्न स्रोतों से पर्यावरण प्रदूषकों के उत्सर्जन या निर्वहन के लिये मानक निर्धारित करना

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

(A) केवल 1
(B) केवल 2
(C) 1 और 2 दोनों
(D) न तो 1 और न ही 2

उत्तर: (B)

प्रश्न 3. यदि किसी विशेष पौधे की प्रजाति को वन्यजीव संरक्षण अधिनियम, 1972 की अनुसूची VI के तहत रखा गया है, तो इसका क्या निहितार्थ है? (2020)

(A) उस पौधे की खेती के लिये लाइसेंस की आवश्यकता होती है।
(B) ऐसे पौधे की खेती किसी भी परिस्थिति में नहीं की जा सकती है।
(c) यह आनुवंशिक रूप से संशोधित फसल का पौधा है।
(D) ऐसा पौधा पारिस्थितिकी तंत्र के लिये आक्रामक और हानिकारक है।

उत्तर: (A)


मेन्स

प्रश्न 1. जलवायु परिवर्तन पर संयुक्त राष्ट्र फ्रेमवर्क कन्वेंशन (UNFCCC) के पार्टियों के सम्मेलन (COP) के 26वें सत्र के प्रमुख परिणामों का वर्णन कीजिये। इस सम्मेलन में भारत ने क्या प्रतिबद्धताएंँ की हैं? (2021)

प्रश्न 2. पर्यावरण प्रभाव आकलन (EIA) अधिसूचना, 2020 का मसौदा मौजूदा EIA अधिसूचना, 2006 से कैसे भिन्न है? (2020)

प्रश्न 3. भारत सरकार द्वारा शुरू किये गए राष्ट्रीय स्वच्छ वायु कार्यक्रम (NCAP) की प्रमुख विशेषताएंँ क्या हैं? (2020)


विकास को गति प्रदान करने हेतु उपाय