संसद टीवी संवाद

BRI: चीन का ऋण जाल | 19 Oct 2021 | अंतर्राष्ट्रीय संबंध

चर्चा में क्यों?

चीन के बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव (BRI) ने निम्न और मध्यम आय वाले देशों (LMIC) को 385 बिलियन अमेरिकी डालर से अधिक का ऋण देकर उन्हें ऋणग्रस्त बना दिया है।

प्रमुख बिंदु:

BRI और भारत:

BRI के बारे में:

BRI के तहत मार्ग:

BRI से जुड़े मुद्दे:

BRI के प्रति वैश्विक प्रतिक्रियाएँ:

भारत के लिये चिंता:

आगे की राह:

निष्कर्ष:

चीन ने आगे बढ़ने और अपने हितों की रक्षा करने के लिये निवेश का एक नेटवर्क स्थापित किया है जिसके कारण कई निम्न और मध्यम आय वाले देश अत्यधिक कर्ज़ में हैं।

इससे निपटने के तरीके तो हैं लेकिन कोई भी एक देश अकेले BRI का विकल्प नहीं प्रदान कर सकता है, इस संबंध में आगे का रास्ता खोजने के लिये बड़ी और मज़बूत अर्थव्यवस्थाएँ एक साथ आ सकती हैं।