डेली अपडेट्स

एक्ट ईस्ट पॉलिसी: कितनी सार्थक! | 27 May 2021 | अंतर्राष्ट्रीय संबंध

यह एडिटोरियल दिनांक 26/05/2021 को 'द इंडियन एक्सप्रेस' में प्रकाशित लेख “What’s going wrong with India’s Act East policy?” पर आधारित है। इस एडिटोरियल में हालिया घटनाक्रमों के कारण दक्षिण पूर्व एशियाई क्षेत्र में भारतीय कूटनीति कितनी सार्थक है, इसपर चर्चा की गई है।

संदर्भ

नई दिल्ली के मुख्यमंत्री की हालिया टिप्पणी, जिसमें उन्होंने कोविड के सिंगापुर संस्करण के बारे में बात कही, के कारण, भारत और सिंगापुर का संबंध तनावपूर्ण हो गया है।

ये घटनाक्रम एक तरह से घरेलू राजनीति की समीक्षा करते हैं और यह भारत की एक्ट ईस्ट नीति को प्रभावित कर रहे हैं।

एक्ट ईस्ट पॉलिसी का विकास

एक्ट ईस्ट पॉलिसी की हालिया चुनौतियाॅं

आगे की राह

निष्कर्ष

हाल के रुझानों से पता चलता है कि एक्ट ईस्ट पॉलिसी में निहित बेहतरीन इरादों के बावजूद, दक्षिण-पूर्व एशिया में भारत की स्थिति और छवि को नुकसान पहुॅंचा है। इसलिये भारतीय कूटनीति को अपनी एक्ट ईस्ट नीति पर नए सिरे से विचार करना चाहिये।

अभ्यास प्रश्न: हाल के घटनाक्रम दक्षिण पूर्व एशियाई क्षेत्र में भारतीय कूटनीति और एक्ट ईस्ट नीति का परीक्षण कर रहे हैं। चर्चा कीजिये।