डेली अपडेट्स

भगोड़ा आर्थिक अपराधी | 25 Jun 2021 | शासन व्यवस्था

प्रिलिम्स के लिये 

भगोड़ा आर्थिक अपराधी, विदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम, प्रवर्तन निदेशालय, फाइनेंशियल इंटेलिजेंस यूनिट - इंडिया (FIU-IND), मनी लॉन्ड्रिंग, अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष

मेन्स के लिये 

भगोड़ा आर्थिक अपराधी अधिनियम के प्रमुख प्रावधान, शक्तियाँ एवं प्रभाव तथा  इसमें  प्रवर्तन निदेशालय की भूमिका

चर्चा में क्यों?

प्रवर्तन निदेशालय ने सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों को ₹8,441.50 करोड़ की संपत्ति हस्तांतरित की है, विजय माल्या, नीरव मोदी तथा मेहुल चौकसी  द्वारा कथित तौर पर की गई धोखाधड़ी के कारण ₹22,585.83 करोड़ का नुकसान हुआ है। 

प्रमुख बिंदु 

भगोड़ा आर्थिक अपराधी अधिनियम, 2018:

भगोड़े आर्थिक अपराधी की घोषणा:

सिविल दावे दायर करने या बचाव करने पर प्रतिबंध :

शक्तियाँ :

धन शोधन निवारण अधिनियम (PMLA) :

मुख्य विशेषताएँ :

प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate)

स्रोत : द हिंदू