डेली अपडेट्स

ओडिशा और पश्चिम बंगाल में चक्रवाती तूफान ‘अम्फान’ | 18 May 2020 | भूगोल

प्रीलिम्स के लिये

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग, चक्रवाती तूफान ‘अम्फान’ 

मेन्स के लिये

चक्रवाती तूफानों के कारण और इनसे निपटने में विभिन्न संस्थानों की भूमिका

चर्चा में क्यों?

भारत मौसम विज्ञान विभाग (India Meteorological Department-IMD) के अनुसार, दक्षिण-पूर्व बंगाल की खाड़ी की ओर बढ़ रहा चक्रवाती तूफान ‘अम्फान’ (Amphan) आगामी कुछ समय में ‘अत्यंत गंभीर चक्रवाती तूफान’ (Extremely Severe Cyclonic Storm) का रूप ले सकता है।

प्रमुख बिंदु

चक्रवात और भारत

चक्रवातों के नामकरण का विषय

  • विदित हो कि चक्रवातों के नामकरण का विषय सदैव से ही काफी महत्त्वपूर्ण रहा है। हिंद महासागर क्षेत्र के आठ देश (बांग्लादेश, भारत, मालदीव, म्याँमार, ओमान, पाकिस्तान, श्रीलंका तथा थाइलैंड) एक साथ मिलकर आने वाले चक्रवातों के नाम तय करते हैं।
  • चक्रवातों के नामकरण के कारण चक्रवात को आसानी से पहचाना जा सकता है और इससे बचाव अभियानों में भी मदद मिलती है। किसी नाम का दोहराव नहीं किया जाता है।
  • उल्लेखनीय है कि मौजूदा चक्रवाती तूफान ‘अम्फान’ (Amphan) का नामकरण थाइलैंड द्वारा किया गया था। 
  • वर्ष 1900 के मध्य चक्रवाती तूफान से होने वाले खतरे के बारे में लोगों को समय रहते सतर्क करने के लिये इसके नामकरण की शुरुआत हुई थी। 


स्रोत: पी.आई.बी.