महत्त्वपूर्ण संस्थान/संगठन

राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण | 17 Dec 2019 | महत्त्वपूर्ण संस्थान

 Last Updated: July 2022 

इसका वास्तविक नाम राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण है, जिसे आमतौर पर राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (National Investigation Agency- NIA) के नाम से जाना जाता है। इसका गठन राष्ट्रीय जाँच एजेंसी अधिनियम, 2008 के तहत किया गया था।

NIA के लक्ष्य

सूचीबद्ध अपराध (Scheduled Offences)

इस अधिनियम के अंतर्गत अपराधों की एक सूची बनाई गई है जिन पर NIA जाँच कर सकती है और मुकदमा चला सकती है। इस सूची में परमाणु ऊर्जा अधिनियम, 1962 (Atomic Energy Act, 1962) और गैर-कानूनी गतिविधियाँ रोकथाम अधिनियम, 1967 (Unlawful Activities Prevention Act, 1967) जैसे अधिनियमों के तहत सूचीबद्ध अपराध शामिल हैं।

क्यों हुआ NIA का गठन

NIA का कार्य-क्षेत्र

नकली भारतीय मुद्रा की तस्करी और आतंकी वित्तपोषण

हालिया संशोधन

विशेष न्यायालय (Special Courts)

हाल के संशोधनों से जुड़े मुद्दे

NIA के संस्थापक महानिदेशक राधा विनोद राजू थे और वर्तमान में वरिष्ठ IPS अधिकारी वाई. सी. मोदी इसके महानिदेशक हैं, जिनका कार्यकाल 1 मई, 2021 तक है।