निबंध उपयोगी उद्धरण

जवाहरलाल नेहरू | 05 Dec 2018 | मुख्य परीक्षा

संस्कृति मन और आत्मा का विस्तार है।
अज्ञानता बदलाव से हमेशा डरती है; लोकतंत्र अच्छा है। मैं ऐसा इसलिये कह रहा हूँ, क्योंकि बाकी व्यवस्थाएँ और भी बुरी हैं!
हर एक हमलावर राष्ट्र की यह दावा करने की आदत होती है कि वह अपनी रक्षा के लिये हमला कर रहा है।

लोकतंत्र और समाजवाद लक्ष्य पाने के साधन हैं, स्वयं में लक्ष्य नहीं!

सह-अस्तित्व का केवल एक विकल्प है सह-विनाश---