डेली अपडेट्स

भारतीय सिनेमा का राष्ट्रीय संग्रहालय | 18 Jan 2019 | विविध

चर्चा में क्यों?


भारतीय सिनेमा के एक सदी से अधिक पुराने इतिहास की जानकारी उपलब्ध कराने के उद्देश्य से मुंबई में भारतीय सिनेमा के राष्ट्रीय संग्रहालय (National Museum of Indian Cinema-NMIC) का निर्माण किया गया है।

प्रमुख बिंदु

NMIC

नवीन संग्रहालय भवन में चार प्रदर्शनी हॉल मौजूद हैं-

  1. गांधी और सिनेमा (Gandhi & Cinema) :  यहाँ महात्मा गांधी के जीवन पर बनी फिल्में मौजूद हैं। इसके साथ सिनेमा पर उनके जीवन के गहरे प्रभाव को भी दिखाया गया है।
  2. बाल फिल्म स्टूडियो (Children’s Film Studio):  यहाँ आगुंतकों, विशेष रूप से बच्चों को फिल्म निर्माण के विज्ञान, प्रौद्योगिकी और कला को जानने का मौका मिलेगा।
  3. प्रौद्योगिकी, रचनात्मकता और भारतीय सिनेमा (Technology, creativity & Indian cinema): यहाँ भारतीय फिल्मकारों द्वारा प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल की जानकारी मिलेगी। रजत पटल पर फिल्मकारों के सिनेमाई प्रभाव को भी पेश किया गया है।
  4. भारतीय सिनेमा (Cinema across India) :  यहाँ देशभर की सिनेमा संस्कृति को दर्शाया गया है।

गुलशन महल (Gulshan Mahal)

Gulshan Mahal

  1. सिनेमा की उत्पत्ति (The Origin of Cinema)
  2. भारत में सिनेमा का आगमन (Cinema comes to India)
  3. भारतीय मूक फिल्म (Indian Silent Film)
  4. ध्वनि की शुरूआत (Advent of Sound)
  5. स्टूडियो युग (Studio Era)
  6. द्वितीय विश्व युद्ध का प्रभाव (The impact of World War II)
  7. रचनात्मक जीवंतता (Creative Resonance)
  8. नई विचारधारा और उससे आगे/न्यू वेव एंड बियॉन्ड (New Wave and Beyond)
  9. क्षेत्रीय सिनेमा (Regional Cinema)

स्रोत : पी.आई.बी एवं द हिंदू