डेली अपडेट्स

जैविक खाद्य उत्पादों की लेबलिंग अब अनिवार्य | 08 Jan 2018 | अंतर्राष्ट्रीय संबंध

चर्चा में क्यों?
भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण (Food Safety and Standards Authority of India- FSSAI) द्वारा जारी एक अधिसूचना के अनुसार, जुलाई 2018 से समुचित लेबलिंग के बिना जैविक खाद्य उत्पादों को बेचना गैर-कानूनी होगा।

प्रमुख बिंदु

जैविक प्रमाणीकरण (Organic Certification) 

जैविक उत्पाद प्रमाणन से उत्पादकों और उपभोक्ताओं को होने वाले लाभ

क्या है जैविक खेती?

जैविक खेती निम्नलिखित रूप से लाभकारी है

क्या है जैविक उत्पादन हेतु राष्ट्रीय कार्यक्रम (NPOP)?

क्या है PGS-I? 

क्या है एपीडा?

भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण
(Food Safety and Standards Authority of India- FSSAI)