डेली अपडेट्स

बढ़ सकता है भारत का चालू खाता घाटा : मूडीज़ | 20 Aug 2018 | भारतीय अर्थव्यवस्था

चर्चा में क्यों?

हाल ही में मूडीज़ तथा अन्य आर्थिक विशेषज्ञों ने कहा है कि कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों और रुपए के मूल्य में गिरावट के कारण वित्त वर्ष 2018-19 में भारत का चालू खाता घाटा (Current Account Deficit- CAD) बढ़कर कुल सकल घरेलू उत्पाद (GDP) का 2.5% तक पहुँच सकता है। उल्लेखनीय है कि हाल ही में तुर्की में हुए राजनीतिक उथल-पुथल के चलते डॉलर के मुकाबले रुपया 70.32 के रिकॉर्ड स्तर पर पहुँच गया। वहीं, चीन की ओर से आर्थिक स्थिति को ठीक रखने के लिये संपत्तियों को सुरक्षित रखने पर ज़ोर देने के कारण भारत जैसी उभरती अर्थव्यवस्थाओं की मुद्रा पर दबाव बढ़ गया है।

विदेशी मुद्रा के अंत: और ब्राह्य प्रवाह के बीच के अंतर को चालू खाता घाटा CAD कहते है।

चालू खाता घाटा में वृद्धि के कारण

रुपए के मूल्य में गिरावट का प्रभाव
नकारात्मक प्रभाव

सकारात्मक प्रभाव

मूडीज़ इन्वेस्टर्स सर्विस (Moody's Investors Service)