डेली अपडेट्स

राज्यों की स्वास्थ्य प्रणाली पर रिपोर्ट | 17 Oct 2019 | सामाजिक न्याय

प्रीलिम्स के लिये:

रिपोर्ट के मुख्य निष्कर्ष और इसके मापदंड; राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन एवं इससे संबंधित अन्य पहलें

मेन्स के लिये:

रिपोर्ट के मुख्य निष्कर्ष, महत्त्व और भूमिका; राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की उपलब्धियाँ, भारत में स्वास्थ्य से संबंधित और उनके के सरकार के द्वारा किये गये प्रयास

चर्चा में क्यों?

हाल ही में केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने राज्यों की हेल्थ सिस्टम स्ट्रेंथनिंग- कंडीशनेलिटी रिपोर्ट ऑफ स्टेट्स (Health System Strengthening-Conditionality Report of States) 2018-19 जारी की।

कंडीशनेलिटी आधारित वित्तीयन का महत्त्व:

कंडीशनेलिटी फ्रेमवर्क

संकेतक भारांश
नीति आयोग की रिपोर्ट आधारित स्वास्थ्य परिणामों पर वृद्धिशील सुधार 40
स्वास्थ्य एवं कल्याण केंद्रों का परिचालन 20
मानव संसाधन सूचना प्रणाली (Human Resource Information System- HRIS) का क्रियान्वयन 15
ज़िला अस्पतालों की ग्रेडिंग 10
ज़िलों में मानसिक स्वास्थ्य सेवाओं की उपलब्धता 5
30 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में गैर-संचारी रोगों की स्क्रीनिंग 5
प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों (ग्रामीण और शहरी) की कार्यात्मकता आधारित रेटिंग 5

रिपोर्ट के प्रमुख निष्कर्ष:

सशक्त कार्यवाही समूह

(Empowered Action Group- EAG)

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन: एक सिंहावलोकन

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन का लक्ष्य निम्नलिखित संकेतकों की प्राप्ति सुनिश्चित करना है-

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की उपलब्धियाँ और नवीन पहलें

स्रोत: द हिंदू बिज़नेसलाइन