डेली अपडेट्स

विमानन सम्‍मेलन 2019 | 28 Feb 2019 | भारतीय अर्थव्यवस्था

चर्चा में क्यों?

नागर विमानन मंत्रालय (Ministry of Civil Aviation) ने भारतीय विमानपत्‍तन प्राधिकरण (Airports Authority of India), AAI कार्गो लॉजिस्टिक्स एंड एलाइड सर्विसेज़ कंपनी लिमिटेड (AAICLAS) और भारतीय उद्योग परिसंघ (Confederation of Indian Industry-CII) के सहयोग से नई दिल्‍ली में विमानन सम्‍मेलन 2019 (Aviation Conclave 2019) का आयोजन किया।

थीम- इस सम्मेलन की थीम/विषय-वस्तु  “सभी के लिये उड़ान” (Flying for All) थी।

सम्मेलन के दौरान विचार-विमर्श के 5 प्रमुख क्षेत्र

  1. द्रोण-इकोसिस्टडम नीति रोडमैप' (Drone-Ecosystem Policy Roadmap)
  2. भारत में क्षेत्रीय परिवहन विमान सहित विमान और उससे जु़ड़े उपकरणों के निर्माण के लिये रोडमैप
  3. ‘भारत से विमानों के लिये वित्तपोषण और पट्टे- परियोजना रुपया रफ्तार’ (Project Rupee Raftaar)
  4. राष्ट्रीय विमान कार्गो नीति (National Air Cargo Policy)
  5. भारतीय हवाई अड्डों को अगली पीढ़ी के विमानन केंद्रों  में बदलने का मिशन

भारतीय नागर विमानन उद्योग

सरकार की नीतियाँ

♦ यात्री अनुभव को बेहतर बनाना।
♦ डिजिटल ढाँचे का उपयोग करके बेहतर परिणाम (throughput) प्राप्त करना।
♦ चेक-पॉइंट्स पर अनावश्यक औपचारिकताओं को दूर करके संचालन लागत को कम करना।
♦ आधार तथा पासपोर्ट की तर्ज़ पर सरकार द्वारा जारी डिजिटल पहचान-पत्र के साथ डिजी यात्रा प्रणाली की शुरुआत करना।

विज़न 2040 (VISION 2040) : यह दस्तावेज़ भारत के विभिन्न उप-क्षेत्रों में विकास की क्षमता पर प्रकाश डालता है। भारत में नागर विमानन उद्योग के लिये विज़न 2040 दस्तावेज़ के अनुसार-

स्रोत : पी.आई.बी