डेली अपडेट्स

5 G तकनीक | 07 Jun 2019 | विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी

चर्चा में क्यों?

वैश्विक दूरसंचार उद्योग निकाय ग्लोबल कम्युनिकेशंस फॉर मोबाइल कम्युनिकेशंस (Global System for Mobile Communications- GSMA) के एक अनुमान के अनुसार, वर्ष 2025 तक भारत में मोबाइल उपभोक्ताओं की संख्या लगभग 920 मिलियन हो जाने की संभावना है, जिसमें लगभग 88 मिलियन उपभोक्ता 5G कनेक्शन वाले हो सकते हैं।

प्रमुख बिंदु

अनुकूल परिस्थिति

5G नेटवर्क की गति डाउनलिंक के लिये 20 गीगाबाइट प्रति सेकेंड (Gb/s) और अपलिंक के लिये 10 गीगाबाइट प्रति सेकेंड (Gb/s) की अधिकतम डेटा दर होनी चाहिये।

LTE

VoLTE

लेटेंसी (Latency)

इंटरनेट ऑफ थिंग्स (Internet of Things- IoT)

Internet of things

स्रोत- प्रेस रीडर, इकोनॉमिक टाइम्स