Study Material | Prelims Test Series
Drishti


 Prelims Test Series 2018 Starting from 10th December

प्रिय प्रतिभागी, 10 दिसंबर के टेस्ट की वीडियो डिस्कशन देखने के लिए आपका यूज़र आईडी "drishti" और पासवर्ड "123456" है। Click to View
जे.पी.एस.सी. - विज्ञप्ति का संक्षिप्त विवरण

झारखंड लोक सेवा आयोग (जे.पी.एस.सी.), राँची द्वारा आयोजित विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं के लिये सर्वप्रथम इनसे सम्बंधित ‘विज्ञप्ति’ जारी की जाती है, उसके पश्चात् ऑनलाइन आवेदन फॉर्म भरने की प्रक्रिया शुरू होती है। इस ‘विज्ञप्ति’ में फार्म भरने की प्रक्रिया से लेकर अंतिम चयन तक के समस्त पहलुओं का विस्तृत विवरण दिया रहता है, इसलिये अभ्यर्थियों को इसका अध्ययन अवश्य कर लेना चाहिये, जिससे कि वे इन परीक्षाओं की प्रकृति से भली-भाँति परिचित हो जाएँ और अपने आपको मानसिक रूप से शुरुआत से ही इसके अनुरूप तैयार कर लें। इस विज्ञप्ति से सम्बंधित कुछ महत्त्वपूर्ण एवं अनिवार्य पहलुओं का विवरण नीचे दिया गया है-

पदों का विवरण:

झारखण्ड लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित पी.सी.एस. परीक्षा में सामान्यतः निम्नलिखित पदों एवं सेवाओं के लिये आवेदन पत्र आमंत्रित किये जाते हैं- 

    • झारखण्ड प्रशासनिक सेवा 
    • झारखण्ड वित्त सेवा
    • झारखण्ड शिक्षा सेवा वर्ग-2
    • झारखण्ड सहकारिता सेवा
    • झारखण्ड सामाजिक सुरक्षा सेवा
    • झारखण्ड सूचना सेवा
    • झारखण्ड पुलिस सेवा
    • झारखण्ड योजना सेवा

नोटः सेवाओं एवं पदों की संख्या घट-बढ़ सकती है।

शैक्षिक योग्यता:

ऑनलाइन आवेदन भरने की अंतिम तिथि तक आवेदक को केन्द्र अथवा राज्य सरकार द्वारा स्थापित संस्था/मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी संकाय में कम-से-कम स्नातक अथवा समकक्ष परीक्षाओं में उत्तीर्ण होना अनिवार्य है।

नोटः झारखण्ड योजना सेवा के लिये आवेदन करने वाले अभ्यर्थियों को किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र, वाणिज्य, सांख्यिकी, गणित, भूगोल, कृषि विज्ञान अथवा सिविल इंजीनियरिंग में से किसी एक में स्नातक उत्तीर्ण होना अनिवार्य है।

आरक्षण:

    • ऑनलाइन आवेदन में नियत प्रविष्टि के अधीन इंगित आरक्षण का दावा नहीं करने पर आरक्षण का लाभ देय नहीं होगा।
    • आरक्षण का लाभ केवल झारखण्ड राज्य के स्थायी निवासी को झारखण्ड राज्य के सक्षम स्तर के पदाधिकारी अर्थात् उपायुक्त/अनुमण्डल पदाधिकारी स्तर से निर्गत जाति प्रमाणपत्र के आधार पर ही देय होगा। झारखण्ड राज्य के बाहर के जाति प्रमाणपत्र धारक अभ्यर्थी के लिये आरक्षण के लाभ हेतु किया गया दावा अनुमन्य नहीं होगा।
    • झारखण्ड सरकार द्वारा लागू अद्यतन आरक्षण संबंधी नियम प्रभावी होंगे।
    • अन्य राज्यों एवं केन्द्रशासित प्रदेशों के उम्मीदवारों को चाहे वे किसी भी जाति के हों, आरक्षण का लाभ नहीं मिलेगा तथा वे अनारक्षित श्रेणी के उम्मीदवार माने जाएंगे।
    • झारखण्ड राज्य के उम्मीदवार, जो अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अत्यंत पिछड़ा वर्ग (अनुसूची-I) तथा पिछड़ा वर्ग (अनुसूची-II) के हैं, को आरक्षण का लाभ प्राप्त करने के लिये सरकार द्वारा निर्धारित प्रपत्र में झारखण्ड राज्यान्तर्गत उपायुक्त/अनुमण्डल पदाधिकारी स्तर से निर्गत प्रमाणपत्र की संख्या एवं जारी करने की तिथि का विवरण ऑनलाइन आवेदन पत्र में देना अनिवार्य होगा अन्यथा उनकी उम्मीदवारी अनारक्षित श्रेणी के लिये मान्य होगी। 
    • खेलकूद कोटा के अन्तर्गत आरक्षण का दावा कला, संस्कृति, खेलकूद एवं युवा कार्य विभाग झारखण्ड सरकार के ज्ञापांक-1709  दिनांक 12.09.2007 द्वारा श्रेणी-II के पदों पर सीधी नियुक्ति हेतु निर्धारित निम्न मानक के अनुसार अनुमन्य होगा।
प्रतियोगिता का स्तर उपलब्धि
अन्तर्राष्ट्रीय ओलम्पिक कमेटी अथवा उससे संबंधित फेडरेशनों द्वारा आयोजित प्रतियोगिता। मेडल
भारतीय ओलम्पिक संघ अथवा उससे सम्बद्ध फेडरेशनों द्वारा आयोजित राष्ट्रीय चैम्पियनशिप स्तर की प्रतियोगिता प्रथम स्थान
राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता विश्व रिकार्ड

 

    • विभिन्न सेवाओं एवं पदों में दिव्यांग कोटे के अन्तर्गत आरक्षण के लिये ऐसे उम्मीदवार पात्र होंगे जो कम-से-कम 40 प्रतिशत संगत निःशक्तता से ग्रस्त हों। आरक्षण के लाभ के लिये उन्हें सक्षम मेडिकल बोर्ड एवं मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी द्वारा प्रतिहस्ताक्षरित निःशक्तता प्रमाणपत्र का पूर्ण विवरण ऑनलाइन आवेदन में भरना अनिवार्य होगा।
    • कार्मिक, प्रशासनिक सुधार तथा राजभाषा विभाग, झारखण्ड सरकार के पत्रांक एवं कार्मिक, लोक शिकायत तथा पेंशन मंत्रालय, भारत सरकार के कार्यालय ज्ञापन के कुछ प्रमुख प्रावधानों के तहत आरक्षित वर्ग के वैसे अभ्यर्थी जिनका चयन उन मानकों के आधार पर होता है, जो सामान्य अभ्यर्थियों के लिये विहित हों उन्हें आरक्षित वर्ग की रिक्तियों के विरुद्ध सामंजित नहीं किया जाएगा। दूसरे शब्दों में जब आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों का चयन, सामान्य वर्ग के अभ्यर्थियों की तुलना में ऊपरी उम्र सीमा में छूट/रियायत प्रदान कर दी जाती है तो वे संबंधित आरक्षित वर्ग की रिक्तियों के विरुद्ध सामंजित होंगे। ऐसे अभ्यर्थी अनारक्षित रिक्तियों के लिये अयोग्य समझे जाएंगे।

आयु सीमा:

    • आयु की गणना विज्ञप्ति में दी गई तिथि के आधार पर की जाती है। इसके अनुसार- 
    • अनारक्षित- अधिकतम 35 वर्ष।
    • अनु.जनजाति एवं अनु.जाति (पुरुष एवं महिला)- अधिकतम 40 वर्ष।
    • पिछड़ा वर्ग (Annexure-II)/ अत्यंत पिछड़ा वर्ग (Annexure-I)-  अधिकतम 37 वर्ष।
    • महिला (अनारक्षित/पिछड़ा वर्ग/ अत्यंत पिछड़ा वर्ग)- अधिकतम 38 वर्ष।
    • झारखण्ड राज्य सरकार के ऐसे सरकारी कर्मी जिन्होंने तीन वर्ष की लगातार सेवा पूरी कर ली हो उनको अपनी श्रेणी के लिये निर्धारित अधिकतम उम्र सीमा में 5 (पाँच) वर्षों की छूट दी जाएगी। निगम, बोर्ड, स्थानीय निकाय के कर्मी सरकारी सेवक के रूप में मान्य नहीं होंगे एवं उन्हें उम्र सीमा में इस तरह की छूट नहीं दी जाएगी।
    • दिव्यांग (कम-से-कम 40 प्रतिशत संगत निःशक्तता से ग्रस्त) उम्मीदवारों को अपनी श्रेणी के लिये निर्धारित अधिकतम उम्र सीमा में 5 वर्षों की छूट दी जाएगी।
    • भूतपूर्व सैनिकों (Ex-Servicemen) को उनकी आरक्षण कोटि के लिये निर्धारित अधिकतम आयु सीमा में 5 (पाँच) वर्षों की छूट दी जाएगी। ऐसे अभ्यर्थियों को साक्षात्कार के समय संबंधित प्रमाणपत्र प्रस्तुत करना अनिवार्य होगा।
    • चतुर्थ एवं पंचम संयुक्त असैनिक सेवा प्रतियोगिता परीक्षा में सम्मिलित हुए दिव्यांग अभ्यर्थियों को उक्त परीक्षा में भाग लेने हेतु उम्र सीमा को मात्र एक बार क्षांत किया जाता है। 

नोटः

    • झारखण्ड सूचना सेवा के लिये न्यूनतम उम्र सीमा 22 वर्ष निर्धारित है।
    • झारखण्ड प्रशासनिक सेवा, झारखण्ड सामाजिक सुरक्षा, झारखण्ड वित्त सेवा, झारखण्ड शिक्षा सेवा वर्ग-2, झारखण्ड सहकारिता सेवा एवं झारखण्ड योजना सेवा के लिये न्यूनतम उम्र सीमा 21 वर्ष निर्धारित है।
    • झारखण्ड पुलिस सेवा के लिये न्यूनतम उम्र सीमा 20 वर्ष निर्धारित है।

शारीरिक मापदंड:

झारखण्ड राज्य पुलिस सेवा के लिये आवश्यक शारीरिक योग्यता-

    • अनारक्षित/पिछड़ा तथा अत्यन्त पिछड़े वर्ग के पुरुष उम्मीदवारों की न्यूनतम लम्बाई -165 से.मी.।
    • अनुसूचित जनजाति एवं अनूसूचित जाति वर्ग के पुरुष उम्मीदवारों की न्यूनतम लम्बाई- 162 से.मी.।
    • अनारक्षित/पिछड़ा तथा अत्यन्त पिछड़े वर्ग की महिलाओं की न्यूनतम लम्बाई -155 से.मी.। 
    • अनुसूचित जनजाति एवं अनुसूचित जाति वर्ग की महिलाओं की न्यूनतम लम्बाई-152 से.मी.।
    • सामान्य एवं पिछड़ा तथा अति पिछड़ा वर्ग के पुरुष उम्मीदवारों के सीने की न्यूनतम माप बिना फुलाए  81 से.मी. तथा अनुसूचित जनजाति एवं अनूसूचित जाति के पुरुष उम्मीदवारों के सीने की न्यूनतम माप बिना फुलाए  79 से.मी. होगी। महिला उम्मीदवारों के लिये सीने की माप नहीं होगी।

चिकित्सीय जाँच:

    • नियुक्ति हेतु उम्मीदवारों के शारीरिक एवं मानसिक रूप से स्वस्थ होने की अनिवार्यता रहेगी। उन्हें सरकारी सेवक के रूप में अपने कर्त्तव्यों के निर्वहन हेतु आवश्यक शारीरिक एवं मानसिक स्वस्थता के मापदण्ड के अनुरूप होना होगा। उन्हें वैसे सभी चिकित्सीय जाँचों में उत्तीर्ण होना होगा, जो सरकार द्वारा अधिसूचित किये गए हैं।

पुलिस उपाधीक्षक के मूल कोटि के पद पर सीधी नियुक्ति हेतु चिकित्सीय जाँच की माप निम्न प्रकार निर्धारित की जाएगीः-

    • शरीर में हड्डियों और जोड़ों में कोई रोग नहीं होना चाहिये।
    • उम्मीदवार के संबंध में मानसिक विकृति या दौरा पड़ने का पूर्ववृत्त  नहीं होना चाहिये।
    • हृदय या रक्त वाहिकाओं के संबंध में कोई क्रियात्मक या आंगिक रोग नहीं होना चाहिये तथा रक्तदाब सामान्य हो।
    • शारीरिक अपंगता न हो।
    • उम्मीदवार Claw Hand से ग्रसित न हो।
    • उम्मीदवार एच.आई.वी. मुक्त हो। 
    • पुरुष उम्मीदवार की  दूर-दृष्टि चार्ट में प्रत्येक आँख से ऐनक सहित या ऐनक रहित 6/6  होने चाहिये।
    • उम्मीदवार को वर्णांधता (Color blindness) एवं निशांधता (Night blindness) न हो।
    • रूटीन ई.सी.जी. तथा ई.ई.जी. सामान्य सीमा में हों।
    • उम्मीदवार की श्रवण क्षमता सामान्य हो।
    • हाईड्रोसील, बेरिकोसिल या पाईल्स का रोग नहीं होना चाहिये।
    • चर्म का ऐसा रोग, जिससे अशक्तता अथवा विकृति होने की संभावना हो तो उससे भी उम्मीदवारी रद्द की जाएगी।
प्रारंभिक परीक्षा का पाठ्यक्रम
मुख्य परीक्षा का पाठ्यक्रम

 


Helpline Number : 87501 87501
To Subscribe Newsletter and Get Updates.